Alvida Shayari – दोस्तों आज हम आपको कुछ Alvida Shayari पढ़ाने जा रहे जिसे पढ़ाने के बाद आप इसे आप इसे अपने उन दोस्तों को शेयर कर सकते हो जो आपके किसी काम या किसी और वजह से अलविदा लेने जा रहे।

क्योंकि आज के टाइम मे बहुत से लोग आपके काम और पढ़ाई के सिलसिले मे देश या शहर से बाहर जाते है जिनका बाहर जाना आपके लिए बहुत दुख वाली बाट होती क्योंकि आप अपने उन दोस्तों को को अब अलविदा कहने जा रहे होते जो आपके बहुत प्रिय मित्र है।

इस लिए आज हम आपको यह Alvida Shayari पढ़ाने जा रहे जो आपको बहुत अधिक पसंद आएगी साथ मे यह Alvida Ramzan Shayari आपके दोस्त को भी बहुत अधिक पसंद आएगी क्योंकि यह Alvida Status आपकी उस दोस्ती को बाय करेगा जो आप अपने उस दोस्त के साथ निभा रहे जो आपसे अब अलग होने जा रहा है।

इस लिए आप सभी यह अलविदा शायरी जरूर पढे क्योंकि यह Alvida Shayari आपको पसंद आएगी साथ मे आप इसे अपने दोस्तों को भी शेयर करे।

 

Alvida Shayari in Hindi

अब आइए आपको हम वह Alvida Shayari in Hindi पढ़ाने जा रहे जो बहुत अधिक पसंद भी आएगी साथ मे आप इन सभी Alvida Shayari को अपने दोस्तों मे भी शेयर कर सकोगे।

 

 

अलविदा कह के जब वौ चल दिये,
इन आखो ने सारे हसीन ख्वाब खो दिये,
दर्द तब नही हुआ जब वो हमे छोड़ दिये,
दुख तो तब हुआ जब वो अलविदा कहते ही खुद रो दिये.,

 

जब कोई ख्वाब अधूरा रह जाता है,
दिल का दर्द आँसू बन बह जाता है,
जो कहता है हम सिर्फ तेरे हैं सदा,
वो शख्स कैसे अलविदा कह जाता है.,

 

तेरी मोहब्बत से लेकर,
तेरे अलविदा कहने तक,
मैंने सिर्फ तुझे चाहा,
तुझ से कुछ नहीं चाहा.,

 

दुआ नहीं तो गिला देता कोई,
मेरी वफ़ा का सिला देता कोई,
जब मुकद्दर ही नहीं था अपना,
देता भी तो भला क्या देता कोई.,

 

अब जिस तरफ से चाहे गुजर जाये कारवां,
वीरानियाँ तो सब मेरे दिल में उतर गयी.,

 

Alvida Shayari

 

हसीन यादों के चाँद को अलविदा’अ कह कर,

मैं अपने घर के अँधेरे कमरों में लौट आया.,

 

वक़्त-ए-रुख़्सत अलविदा’अ का लफ़्ज़ कहने के लिए,

वो तिरे सूखे लबों का थरथराना याद है.,

 

वो अलविदा’अ का मंज़र वो भीगती पलकें,

पस-ए-ग़ुबार भी क्या क्या दिखाई देता है.,

 

कलेजा रह गया उस वक़्त फट कर,

कहा जब अलविदा उस ने पलट कर.,

 

एक दिन कहना ही था इक दूसरे को अलविदा,

आख़िरश ‘सालिम’ जुदा इक बार तो होना ही था.,

 

Waseem Barelvi Shayari

 

अज़ीज़ो आओ अब इक अल-विदाई जश्न कर लें,

कि इस के ब’अद इक लम्बा सफ़र अफ़सोस का है.,

 

तेरी महुब्बत से ले के तेरे अलविदा कहने तक,
में ने सिर्फ तझे चाहा है तुझ से कुछ नहीं चाहा.,

 

सर झुकाने की आदत नहीं है आँसू बहाने किअदत नहीं है,
हम खो गए तो पछताओ गे बहुत,
क्यूँ के हमारी लौट के आने की आदत नहीं.,

 

प्यार में लोग बहुत मजबूत हो जाते है,
और बहुत कमज़ोर भी,
मजबूत इतने की सारी दुनिया से लड़ जाते है,
और कमज़ोर इतने की सिर्फ एक इंसान बिना रह नहीं पाते.,

 

अब कर के फ्हरामोश तो नाशाद करोगे,
पर हम जो न होंगे तो बहुत याद करोगे.,

 

Alvida Shayari

 

बस एक बार कर के ऐतबार लिख दो,
कितना है मुझ से प्यार लिख दो,
कटती नहीं अब ये ज़िन्दगी बिन तेरे,
और कितना करूँ में इन्तेज़ार लिख दो.,

 

उसे भूल कर जिया तो किया जिया दम है तो उसे पाकर दिखा,
लिख पत्थारों पर अपने ओयार की कहानी,
और बोल सागर से दम है तो इसे मिटा कर दिखा.,

 

खता हो गयी तो सजा बता दो,
दिल में इतना दर्द क्यूँ है वजह बता दो,
देर हो गयी है याद करने में जरुर,
लिकेन तुमको भुला देंगे ये ख्याल दिल से मिटा दो.,

 

वो अलविदा की रस्म भी अजीब थी,
उसका पत्थर सा चेहरा कभी भूलता नहीं.,

 

मिलता था हर रंग जिन्दगी का जिसमें,
वो आज अलविदा जाने क्यो कह रहा है.,

 

Udas Shayari

 

अजीब था उनका अलविदा कहना,
सुना कुछ नहीं और कहा भी कुछ नहीं,
बर्बाद हुवे उनकी मोहब्बत में,
की लुटा कुछ नहीं और बचा भी कुछ नहीँ.,

 

बड़े गरूर से वो अलविदा कहके चले थे,
फिर न जाने क्यूँ मुड़ मुड़ के देखते रहे.,

 

अलविदा कह गया सबसे फिर बिता कल,
नई उम्मीद की तलाश में होने लगी हलचल.,

 

Alvida Shayari

 

तुम ख्वाबों में इन पर्दों में आया ना करो,
हर सुबह जब मुस्कुराकर अलविदा कहना ही है,
तो यूँ प्यार से हर रात गले लगाया ना करो.,

 

अलविदा कहते हुए जब उनसे कोई निशानी मांगी,

वो मुस्कुराते हुए बोले की जुदाई काफी नहीं है क्या.,

 

आज किसी मोड़ पर उसे अलविदा कह दिया,
जो कभी शामिल ही नहीं था मेरी जिंदगी में.,

 

ना पीछे मुड़ के देखो, ना आवाज दो मुझको,
बड़ी मुश्किल से सीखा है मैंने अलविदा कहना.,

 

गज़ब दस्तूर है महफ़िल से अलविदा कहने का,
वो भी ख़ुदा-हाफ़िज़ कहते है जिनके ठिकाने नहीं होते.,

 

Alvida Ramzan Shayari

अब आइए आपको हम यह Alvida Ramzan Shayari के लिए बहु कुछ स्पेशल शायरी पढ़ाने जा रहे जो आपको बहुत अधिक पसंद आने वाली क्योंकि यह सभी Alvida Shayari मे यह शायरी भी बहाऊत लोगों को पसंद आने वाली है।

 

चांदनी रात अलविदा कह रही है,
ठंडी सी हवा दस्तक दे रही है,
जरा उठाकर देखो नज़ारों को,
एक प्यारी सी सुबह आपको शुभ दिवस कह रही है,
दोस्त आप का दिन शुभ रहे.,

 

लफ्ज़ नम हुए मेरे, धड़कन थमने सी लगी,
जब जाते वक्त उसने आंखों से अलविदा कहा.,

 

सोया तो था में जिंदगी को अलविदा कह कर दोस्तों,
किसी की बे-पनाह दुआओ ने मुझे फिर से जगा दिया.,

 

Alvida Shayari

 

क्या पता अब तुमसे मिलना हो न हो,

चाह के फूलों का खिलना हो न हो,

बिन मिले ही या कहोगे अलविदा.,

 

मिलता था हर रंग जिन्दगी का जिसमें,

वो आज अलविदा जाने क्यो कह रहा है.,

 

बड़े गरूर से वो अलविदा कहके चले थे,

फिर न जाने क्यूँ मुड़ मुड़ के देखते रहे.,

 

अलविदा कह गया सबसे फिर बिता कल,

नई उम्मीद की तलाश में होने लगी हलचल.,

 

लिपट-लिपट के कह रही हैं मुझसे ये सर्द हवाएं,

इक रात की मोहलत दो अलविदा कहने के लिए.,

 

अपनी नाजायज़ जिद को अलविदा कह दो,

और भी ग़म है ज़माने में सिवा इश्क के.,

 

लफ्ज़ नम हुए मेरे, धड़कन थमने सी लगी,

जब जाते वक्त उसने आंखों से अलविदा कहा.,

 

तुम दर्द हो तुम ही आराम हो मेरी दुआवो से आती है,

बस ये सदा मेरी होके हमेशा ही रहना कभी ना कहना अलविदा.,

 

 

जिंदगी में तन्हा रहना तो मुमकिन नहीं,
तेरे साथ चलना दुनिया को गवारा भी नहीं,
इसलिए, तेरा-मेरा दूर जाना ही बेहतर है.,

 

न कहा न कुछ सुना, बस चुपके से चल दिए,
मोहब्बत के उन्होंने सारे मायने बदल दिए,
अब तो तन्हा गलियों में गुजरेगी हर शाम,
मर भी गए, तो भी नहीं भूलेंगे उनका नाम.,

 

वो शाम सुहानी थी जो गुजरी तेरे साथ,
बिन तेरे अब कैसे कटेगी सारी रात,
समझ लो तुम भी यह मजबूरी है दिल की,
नहीं गए, तो कैसे कल फिर होगी मुलाकात.,

 

 

यार तेरी दोस्ती को सलाम है,
अलविदा कहकर भी हंसा दिया,
यह बस तेरी यारी का कमाल है.,

 

रूठा जमाना जिंदगी भी रूठी,
तभी तो तेरे-मेरे बीच ये दूरी छूटी,
समझ लेना तुम है ये मेरी मजबूरी,
वरना न आने देता तेरे-मेरे बीच यह दूरी.,

 

करीब आते-आते तू कुछ दूर सा हो गया है,
शाम को अलविदा कह तू कहीं गुम सा गया है,
चाहता हूं मैं करीब होने का एहसास तेरे पर,
खुशी के खातिर तेरी तुझे अलविदा कह गया हूं.,

 

दर्ज करो पते उनके सब ओहदों के साथ,
न जाने कौन भूले या फिर याद आए कौन.,

 

न जाने अब मुलाकात हो न हो,
जिंदगी में फिर बहार हो न हो,
जाते-जाते मुस्कुरा दो कम से कम,
दोबारा इस मुस्कराहट का दीदार हो न हो.,

 

वक्त से बड़ा कोई मरहम नहीं,
वक्त से बड़ा कोई दर्द भी नहीं,
न चाहते हुए भी दूर कर देता है ये,
वरना, कौन कमबख्त अलविदा कहता.,

 

गम देना पर आंसू मत देना,
प्यार के बदले धोखा मत देना,
जो चाहे मांग लो पर जिंदगी में,
पर कभी अलविदा मत कहना.,

 

न चाहते थे कहना अलविदा फिर भी कहना पड़ेगा,
न चाहते थे दूर जाना तुमसे फिर भी जाना पड़ेगा,
मुकम्मल इश्क के खातिर ऐ मेरे हमदम,
दर्द ए जुदाई का कड़वा जहर हमें पीना ही पड़ेगा.,

 

Conclusion

यही सभी Alvida Shayari आप सभी को काफी पसंद आई होंगी अगर नहीं तो आप हमे कमेन्ट मे बताए हम अपने अगले पोस्ट व  Hindi Shayari मे कुछ अच्छा सुधार करेंगे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.