Death Shayari – दोस्तों आज हम आपको इस पोस्ट मे कुछ Death Shayari पढ़ाने जा रहे ताकि अगर आपके रेलटिव मे या फिर कही आस पास किसी के यहाँ कुछ अनहोनी हो जाए और आपके सबसे अच्छे साथी इस संसार को छोड़ कर चले जाए तो आप उनके परिवार के साथ इन death shayari की मदद से शोक संदेश भेज सकते है।

क्योंकि इस जीवन मे कोई भी अमर होकर नहीं आया जो इस मायारूपी संसार मे आया है उसको तो एक न एक दिन जाना ही है तो आइए इन Death shayari की मदद से उनके परिवार को एक शोक संदेश भेजे और फिर उनके परिवार का सहारा बने।

 

Death Sad Shayari

इस पोस्ट मे हम आपको कभी अच्छी Death Sad Shayari पढ़ाने जा रहे जो आपको बहुत ज्यादा पसंद आएगी तो आइए और इस पोस्ट के मध्यम से पढिए और फिर इन Death shayari को शोक संदेश की तरह शेयर करिए।

 

मौत ने चुपके से ना जाने क्या कहा,
और जिंदगी खामोश हो कर रह गयी.,

 

बहुत है शिकवा मुझसे कुछ लोगों को,

एक दिन हम सारे शिकवे दूर कर जायेंगे,

तड़प ज़िन्दगी से बंधी है मौत से नहीं,

एक दिन हम इस तड़प से आज़ाद हो जायेंगे.,

 

मेरी ज़िन्दगी तो गुजरी तेरे हिज्र के सहारे,
मेरी मौत को भी कोई बहाना चाहिए.,

 

किससे महरूम-ए-किस्मत की शिकायत कीजे,
हमने चाहा था कि मर जायें सो वो भी नहीं हुआ.,

 

कोई नहीं आएगा मेरी जिदंगी में तुम्हारे सिवा,
बस एक मौत ही है जिसका मैं वादा नहीं करता.,

 

Death Shayari

 

दो गज़ ज़मीन सही मेरी मिल्कियत तो है,
ऐ मौत तूने मुझको ज़मींदार कर दिया.,

 

आशिक़ मरते नहीं सिर्फ दफनाए जाते हैं,
कब्र खोद कर देखो इंतज़ार में पाए जाते हैं.,

 

ना चाँद अपना था और ना तू अपना था,
काश दिल भी मान लेता की सब सपना था,
कोई नही आएगा मेरी ज़िदंगी मे तुम्हारे सिवा,
एक मौत ही है जिसका मैं वादा नही करता.,

 

जीना चाहता हूँ मगर जिंदगी रास नहीं आती,
मरना चाहता हूँ मगर मौत पास नहीं आती,
उदास हूँ इस जिंदगी से इसलिए क्योंकि,
उसकी यादें तड़पाने से बाज नहीं आतीं.,

 

ज़िंदगी ज़ख्मों से भरी है,
वक़्त को मरहम बनाना सीख लो,
हारना तो है ही मौत के हाथों एक दिन,
फिलहाल ज़िंदगी को जीना सीख लो.,

 

Behan Bhai Shayari

 

हमारी हर खता पे नाराज़ न होना,
अपनी प्यारी सी मुस्कराहट को कभी न खोना,
सुकून मिलता है देख कर आपकी मुस्कराहट,
हमे मौत भी आये तो भी मत रोना.,

 

इंतज़ार है हमें तो बस अपनी मौत का,
उनका वादा है कि उस दिन मुलाकात होगी.,

 

लोग कहते हैं कि लड़कियां ज़िन्दगी होती हैं मौत नहीं,
मगर वह क्या जाने की ढोका भी ज़िन्दगी देती है मौत नहीं.,

 

मौत मांगते हैं तो ज़िन्दगी खफा हो जाती है,
ज़ेहर लाते हैं तो वो भी दवा हो जाता है,
तू ही बता ए मेरे दोस्त क्या करूँ,
जिसको भी चाहते हैं वो बेवफा हो जाता है.,

 

इश्क के नाम पर दीवाने चले आते हैं,
शमा के पीछे परवाने चले आते हैं,
तुम्हें याद ना आये तो चले आना मेरी मौत पर,
उस दिन तो बेगाने भी चले आते हैं.,

 

Death Shayari

 

कुछ साँसे बची हैं आखिरी बार दीदार दे दो,
झूठा ही सही एक बार मगर तुम प्यार दे दो,
जिंदगी तो वीरान थी मौत भी गुमनाम ना हो,
मुझे गले लगा लो फिर मौत मुझे हजार दे दो.,

 

आंखें खुली हो तो चेहरा तुम्हारा हो,
आँखें बंद हो तो सपना तुम्हारा हो,
मुझे मौत का डर नहीं होगा,
अगर कफ़न की जगह दुपट्टा तुम्हारा हो.,

 

अब तक हम मुन्तजिर हैं जिनके ऐ खुदा,
उनको हमारा ख्याल तक न आया,
उनके इश्क में हमारी जान तक चली गयी,
और उनको हमारी मौत का मलाल तक न आया.,

 

मेरी हर खता पे नाराज न होना,
अपनी प्यारी सी मुस्कान कभी न खोना,
सुकून मिलता है देख कर आपकी हंसी को,
मुझे मौत भी आ जाये तो भी न रोना.,

 

जिसकी याद में सारे जहाँ को भूल गए,

सुना है आजकल वो हमारा नाम तक भूल गए,

कसम खाई थी जिसने साथ निभाने की यारो,

आज वो हमारी लाश पर आना भूल गए.,

 

Punjabi Shayari 

 

इक तुम हो जिसे प्यार भी याद नहीं,

इक में हूँ जिसे और कुछ याद नहीं,

ज़िन्दगी मौत के दो ही तो तराने हैं,

इक तुम्हें याद नहीं इक मुझे याद नहीं.,

 

एक दिन निकला सैर को मेरे दिल में कुछ अरमान थे,

एक तरफ थी झाड़ियाँ एक तरफ श्मशान थे,

पैर तले इक हड्डी आई उसके भी यही बयान थे,

चलने वाले संभल कर चलना हम भी कभी इंसान थे.,

 

मौत मांगते है तो ज़िन्दगी खफा हो जाती है,

जहर लेते है तो वो भी दवा हो जाती है,

तु बता ऐ ज़िन्दगी तेरा क्या करू,

जिसको भी चाहा वो बेवफा हो जाती है.,

 

तुम दर्द भी हो मेरा और दर्द की दवा भी हो,
मेरी मौत का कारण भी हो तुम जीने की वजह भी हो,
खुली नज़रो से तुम दूर हो बहुत मुझसे,
बंद आँखों में हर जगह मेरे पास भी हो तुम.,

 

इक तुम हो जिसे प्यार भी याद नहीं,
इक में हूँ जिसे और कुछ याद नहीं,
ज़िन्दगी मौत के दो ही तो तराने हैं,
इक तुम्हें याद नहीं इक मुझे याद नहीं.,

 

Death Shayari

 

आता है कौन कौन तेरे ग़म को बांटने,
तू अपनी मौत की अफवाह उड़ा के देख.,

 

कौन जाने कब मौत का पैगाम आ जाये,
ज़िंदगी की आखरी शाम आ जाये,
हम तो ढूंढते हैं वक़्त ऐसा जब,
हमारी ज़िन्दगी आपके काम आ जाये.,

 

इश्क के नाम पर दीवाने चले आते हैं,
शमा के पीछे परवाने चले आते हैं,
तुम्हें याद ना आये तो चले आना मेरी मौत पर,
उस दिन तो बेगाने भी चले आते हैं.,

 

एक दिन हम भी कफ़न ओढ़ जायेंगे,
सब रिश्ते इस जमीन के तोड़ जायेंगे,
जितना जी चाहे सता लो मुझको,
एक दिन रोता हुआ सबको छोड़ जायेंगे.,

 

वादे तो हजारों किये थे उसने मुझसे,
काश एक वादा ही उसने निभाया होता,
मौत का किसको पता कि कब आएगी,
पर काश उसने ज़िन्दा जलाया न होता.,

 

Dead Shayari

अब आपको हम Dead Shayari की यह कुछ शेयर करने वाली शायरी आपको पढ़ाने जा रहे जिसे आप पढे और फिर इसे शोक संदेश की तरह शेयर भी करे।

 

ऐ हिज्र वक़्त टल नहीं सकता है मौत का,
लेकिन ये देखना है कि मिट्टी कहाँ की है.,

 

आखिरी दीदार कर लो खोल कर मेरा कफ़न,
अब ना शरमाओ कि चश्म-ए-मुन्तजिर बेनूर है.,

 

तमाम गिले-शिकवे भुला कर सोया करो यारो,
सुना है मौत किसी को कोई मोहलत नहीं देती.,

 

कितना और दर्द देगा बस इतना बता दे,
ऐसा कर ऐ खुदा मेरी हस्ती मिटा दे,
यूँ घुट-घुट के जीने से तो मौत बेहतर है,
मैं कभी न जागूं मुझे ऐसी नींद सुला दे.,

 

आँख की ये एक हसरत थी कि बस पूरी हुई,
आँसुओं में भीग जाने की हवस पूरी हुई,
आ रही है जिस्म की दीवार गिरने की सदा,
एक अजब ख्वाहिश थी जो अबके बरस पूरी हुई.,

 

Death Shayari

 

प्यार में सब कुछ भुलाए बैठे हैं,
चिराग यादों के जलाये बैठे है,
हम तो मरेंगे उनकी ही बाहों में,
ये मौत से शर्त लगाये बैठे हैं.,

 

एक सूरज था कि तारों के घराने से उठा,
आँख हैरान है क्या शख़्स ज़माने से उठा.,

 

अब सुपुर्द-ए-खाक हूँ मुझको जलाना छोड़ दे,
कब्र पर मेरी तू उसके साथ आना छोड़ दे,
हो सके गर तू खुशी से अश्क पीना सीख ले,
या तू आँखों में अपनी काजल लगाना छोड़ दे.,

 

सुलगती जिन्दगी से मौत आ जाये तो बेहतर है,
अब हमसे दिल के अरमानों का मातम नही होता.,

 

कितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता,
किसी की बर्बादी का किस्सा सुनाया नहीं जाता,
एक बार जी भर के देख लो इस चहरे को,
क्यूंकि बार बार कफ़न उठाया नहीं जाता.,

 

जब तेरी नजरों से दूर हो जायेंगे हम,
दूर फिजाओं में कहीं खो जायेंगे हम,
मेरी यादों से लिपट कर रोने आओगे तुम,
जब जमीन को ओढ़ कर सो जायेंगे हम.,

 

जिसकी याद में सारे जहाँ को भूल गए,
सुना है आजकल वो हमारा नाम तक भूल गए,
कसम खाई थी जिसने साथ निभाने की यारो,
आज वो हमारी लाश पर आना भूल गए.,

 

चंद साँसे बची हैं आखिरी दीदार दे दो,
झूठा सही एक बार मगर प्यार दे दो,
ज़िन्दगी तो वीरान थी पर मौत तो गुमनाम न हो,
मुझे गले लगा लो फिर मौत मुझे हज़ार दे दो.,

 

एक दिन हम भी कफ़न ओढ़ जायेंगे,
सब रिश्ते इस जमीन से तोड़ जायेंगे,
जितना जी चाहे सता लो तुम मुझे,
एक दिन रोता हुआ सबको छोड़ जायेंगे.,

 

प्यार में सब कुछ भुलाये बैठे हैं,
चिराग यादों के जलाये बैठे हैं,
हम तो मरेंगे उनकी ही यादों में,
यह मौत से शर्त लगाये बैठे हैं.,

 

Death Shayari

 

कितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता,
किसी की बर्बादी का किस्सा सुनाया नहीं जाता,
एक बार जी भर के देख लो इस चहरे को,
क्यूंकि बार बार कफ़न उठाया नहीं जाता.,

 

जब तेरी नजरों से दूर हो जायेंगे हम,
दूर फिजाओं में कहीं खो जायेंगे हम,
मेरी यादों से लिपट कर रोने आओगे तुम,
जब जमीन को ओढ़ कर सो जायेंगे हम.,

 

पहले ज़िन्दगी छीन ली मुझसे,
अब मेरी मौत का फायेदा उठाती है,
मेरी कब्र पे फूल चढ़ाने के बहाने,
वो किसी और से मिलने आती है.,

 

रुखसत हुए तेरी गली से हम आज कुछ इस कदर,
लोगो के मुह पे राम नाम था और मेरे दिल में बस तेरा नाम.,

 

मिटटी मेरी कब्र से उठा रहा है कोई,
मरने के बाद भी याद आ रहा है कोई,
ए खुदा कुछ पल की मोहलत और दे दे,
उदास मेरी कब्र से जा रहा है कोई.,

 

जब मेरा जनाज़ा इस ज़माने से निकला,
मेरे जनाज़े को देखने सारा ज़माना निकला,
मगर मेरे जनाज़े में वो न निकले,
जिस के लिए मेरा जनाज़ा में निकला.,

 

चैन तो छिन चूका है अब बस जान बाकी है,
अभी मोहब्बत में मेरा इम्तेहान बाकी है,
मिल जाना वक़्त पर पर ए मौत के फ़रिश्ते,
किसी को गिला है किसी का फरमान बाकी है.,

 

एक दिन ये नज़ारा भी देख लेना ज़ालिम,
मेरा जनाजा तेरी बरात से अच्छा होगा.,

 

माँ की आग़ोश में कल मौत की आग़ोश में आज,
हम को दुनिया में ये दो वक़्त सुहाने से मिले.,

 

मौत की हिम्मत कहां थी मुझसे टकराने की,
कमबख्त ने मोहब्बत को मेरी सुपारी दे डाली.,

 

 

तुम आओ और कभी दस्तक तो दो इस दिल पर,
प्यार उम्मीद से कम हो तो सज़ा-ऐ-मौत दे देना.,

 

जिन्दगी जख्मो से भरी है वक्त को मरहम बनाना सीख लो,
हारना तो है एक दिन मौत से फिलहाल जिन्दगी जीना सीख लो.,

 

मौत-ओ-हस्ती की कशमकश में कटी उम्र तमाम,
गम ने जीने न दिया शौक ने मरने न दिया.,

 

चले आओ मुसाफिर आख़िरी साँसें बची हैं कुछ,
तुम्हारी दीद हो जाती तो खुल जातीं मेरे आँखें.,

 

किससे महरूम-ए-किस्मत की शिकायत कीजे,
हमने चाहा था कि मर जायें सो वो भी नहीं हुआ.,

 

Sad Death Shayari

दोस्तों यह सभी Sad Death Shayari भी आप शोक संदेश की तरह इस्तेमाल कर सकते है तो आइए पढिए और शेयर करिए इन सबही Sad Death Shayari को शोक संदेश की तरह।

 

मिल जाएँगे कुछ हमारी भी तारीफ़ करने वाले,
कोई हमारी मौत की अफवाह तो उड़ाओ यारों.,

 

किसी कहने वाले ने भी क्या खूब कहा है कि,
मेरी ज़िन्दगी इतनी प्यारी नहीं की मैं मौत से डरूं.,

 

मैं जो चाहूँ तो अभी तोड़ लूँ नाता तुम से,
पर मैं बुजदिल हूँ मुझे मौत से डर लगता है.,

 

तलब मौत की करना गुनाह है ज़माने में यारों,
मरने का शौक है तो मुहब्बत क्यों नहीं करते.,

 

तुम समझते हो कि जीने की तलब है मुझको,
मैं तो इस आस में ज़िंदा हूँ कि मरना कब है.,

 

 

ज़िंदगी इक सवाल है जिस का जवाब मौत है,
मौत भी इक सवाल है जिस का जवाब कुछ नहीं.,

 

जो मौत से ना डरता था, बच्चों से डर गया,
एक रात जब खाली हाथ मजदूर घर गया.,

 

ज़िंदगी इक हादसा है और कैसा हादसा,
मौत से भी ख़त्म जिस का सिलसिला होता नहीं.,

 

जहर के असरदार होने से कुछ नही होता साहब
खुदा भी राजी होना चाहिये मौत देने के लिये.,

 

जरा चुपचाप तो बैठो कि दम आराम से निकले,
इधर हम हिचकी लेते हैं उधर तुम रोने लगते हो.,

 

मौत ख़ामोशी है चुप रहने से चुप लग जाएगी,
ज़िंदगी आवाज़ है बातें करो बातें करो.,

 

अच्छाई अपनी जिन्दगी, जी लेती हैं,
बुराई अपनी मौत, खुद चुन लेती है.,

 

पता नहीं किसने घोल दिया ज़हर मेरी मोहब्बत में,

अब ना ज़िन्दगी अच्छी लगती है और ना मौत आती है.,

 

 

बिना मौत के ही किसी दिन में जायेंगे हम,

आप जो इसी तरह दूर जाते रहोगे हमसे.,

 

कौन कहता है की मैं मरना चाहती हूँ,

मैं तो तेरे इश्क में जीना चाहती हूँ,

तुझको होठों से लगा कर पीना चाहती हूँ.,

 

शिकायत मौत से नहीं मेरी मोहब्बत से हुई मुझको,

मेरे मरने की बात सुनते ही कब्र बनाना शुरू कर दिया उसने.,

 

दिल को बच्चा बनाया था तेरे इश्क ने,

तुझसे पहले मौत आ गई मेरी जवानी लेकर.,

 

सुना है मौत जब आती है तब,

एक पल की भी मोहलत नहीं देती,

अगर मैं अचानक मर जाऊ तो,

मेरी गलतियों को माफ़ कर दोगे ना तुम.,

 

Conclusion

यही सभी Death Shayari आप सभी को काफी पसंद आई होंगी अगर नहीं तो आप हमे कमेन्ट मे बताए हम अपने अगले पोस्ट व  Hindi Shayari मे कुछ अच्छा सुधार करेंगे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.