Hug Day Shayari – दोस्तों हग दिवस एक दिन की तरह मनाया जाता है जिसमे आप अपने दोस्तों को गले लग कर उसे उस दिन की और जीवन मे आगे बढ़ने की कामना करके बधाई देते है। इस लिए आप अगर अपने दोस्तों को इस बार गले मिलकर बधाई नहीं दे पाए तो आप उनको हमरे द्वारा लिखे इन Hug Day Shayari को अपने दोस्तों को भेज सकते है।

इसमे आपको कुछ ज्यादा नहीं बल्कि आपको वह सभी Happy Hug Day Shayari मिल जाएगी जिसमे प्यार और भलाई जैसे शब्द और उनसे जुड़े कुछ अच्छी शायरी जिसे हमारे पूर्वज कभी अपने दोस्तों को लिख कर भेजते थे। उस तरह की Hug Day Shayari आपको पढ़ने को मिल जाएगी जो आपको बहुत पसंद आएगी।

 

Hug Day Shayari in Hindi

आइए अब सुरू करे यह सभी Hug Day Shayari in Hindi को पढ़ना और अगर आपको यह शायरी पसंद आए तो आप अपने दोस्तों को भी इसे शेयर कर सकते हो तो आइए सुरू करे पढ़ना इन सभी Hug Day Shayari को बिना परेशानी।

 

लग जा गले के फिर ये हसीन रात हो न हो,
शायद फिर इस जनम में मुलाकात हो न हो.,

 

देखा हैं जब से तुमको मेरा दिल नहीं हैं बस में,
जी चाहे आज तोड़ दु दुनिया की सारी रश्में,
तेरा हाथ चाहता हूँ तेरा साथ चाहता हूँ,
बाहों में तेरी रहना मैं दिन रात चाहता हूँ.,

 

मुझको फिर वही सुहाना नजारा मिल गया,
नज़रों को जो दीदार हरा मिल गया,
और किसी चीज की तमन्ना क्यों करूँ,
जब मुझे तेरी बाँहों में सहारा मिल गया.,

 

जब भी तू अपनी बाहों में लेती है मुझे,
यह जमीं चाँद से बेहतर नजर आती है हमे.,

 

देखा है जबसे तुमको मेरा दिल नहीं है बस में,
जी चाहे आज तोड़ दूँ दुनिया की सारी रस्मे,
तेरा साथ चाहता हूँ तेरा हाथ चाहता हूँ,
बाँहों में तेरी रहना मैं दिन रात चाहता हूँ.,

 

hug day shayari

 

नाराजगियां भी कबूल थी आपकी मगर,
एक बार गले से हमें लगाया तो होता,

इत्तेफाक से जब वो चूम लेते है मेरे माथे को,
दिल चाहता है ये वक्त, ये जिंदगी यही रूक जाये.,

 

देखा है जबसे तुझको मेरा दिल नहीं है बस में,
जी चाहे आज तोड़ दूँ दुनिया की सारी रस्में,
तेरा साथ चाहता हूँ तेरा हाथ चाहता हूँ,
बाँहों में तेरी रहना मैं दिन रात चाहता हूँ.,

 

मन ही मन करती हूँ बातें,
दिल की हर एक बात कह जाती हूँ,
एक बार तो ले लो बाँहों में सजना,
यही हर बार कहते कहते रुक जाती हूँ.,

 

इतना ना तड़पाओ मेरे दिल को,
*इतना ना सताओ मेरे बाहों को,
इतना ना छुपाओ तेरे प्यार को,
आग दोनो तरफ़ लगी हैं,
आओ ले लो मुझे अपनी बाहों में.,

 

Family Shayari Hindi

 

हम को हमी से चुरा लो,
दिल में कहीं तुम छुपा लो.,

 

सिर्फ एक बार गले लग कर मेरे दिल की धड़कन सुन,
फिर लौटने का इरादा हम तुम पर छोड़ देंगे हैपी हग डे.,

 

एक बार तो मुझे सीने से लगा ले,
अपने दिल के भी सारे अरमान सजा ले,
कबसे है तड़प तुझे अपना बनाने की,
आज तो मौका है मुझे अपने पास बुला ले.,

 

बातो बातो मैं दिल ले जाते हो,
देखते हो इस तरह जान ले जाते हो,
अदाओ से अपनी इस दिल को धडकाते हो,
लेकर बाहों मै – सारा जहाँ भुलाते हो.,

 

एक ही तमन्ना, एक ही आरजू,
बाँहों की पनाह में तेरे,
सारी जिन्दगी गुजर जाए.,

 

happy hug day shayari

 

एक बार तो मुझे सीने से लगा ले,
अपने दिल के भी अरमान सजा ले,
कबसे है तड़प तुझे अपना बनाने की,
आज तो मौका है मुझे अपने पास बुला ले,
बाहों के दरमियाँ अब दूरी न रहे,
सीने से लगा लो कोई चाहत अधूरी न रहे.,

 

देख के तेरा हसीं चेहरा, ख़ुशी से फूल जाती हूँ,
आके बाहों में तुम्हारी, सारा दर्द भूल जाती हूँ.,

 

देखा है जबसे तुमको मेरा दिल नहीं है बस में,
जी चाहे आज तोड़ दूँ दुनिया की सारी रस्मे,
तेरा साथ चाहता हूँ तेरा हाथ चाहता हूँ,
बाँहों में तेरी रहना मैं दिन रात चाहता हूँ.,

 

मुझको फिर वही सुहाना नजारा मिल गया,
नज़रों को जो दीदार हरा मिल गया,
और किसी चीज की तमन्ना क्यों करूँ,
जब मुझे तेरी बाँहों में सहारा मिल गया.,

 

लग जा गले से ये रात फिर न आएगी,
किस्मत भी शायद हमको फिर न मिलाएगी,
बाकि है बस चाँद सांसे इस दिल में,
रूह भी न जाने कैसे तेरे बिन रह पाएगी.,

 

Dil Shayari

 

लिपट जाओ फिर एक बार गले हमारे,
कोई दीवार ना रहे बीच हमारे तुम्हारे,
लिपट जाती जरूर अगर जमाने का डर ना होता,
बसा लेती मैं तुम्हें अगर सीने मैं घर होता.,

 

सिर्फ एक बार गले लग कर मेरे दिल की धड़कन सुन,
फिर लौटने का इरादा हम तुम पर छोड़ देंगे.,

 

एक बार तो मुझे सीने से लगा ले,
अपने दिल के भी अरमान सजा ले,
कबसे है तड़प तुझे अपना बनाने की,
आज तो मौका है मुझे अपने पास बुला ले.,

 

बातो बातो मैं दिल ले जाते हो,
देखते हो इस तरह जान ले जाते हो,
अदाओ से अपनी इस दिल को धरकाते हो,
लेकर बाहों मै – सारा जहाँ भुलाते हो.,

 

लग जा गले यह रात फिर न आएगी,
किस्मत भी हमको शायद फिर ना मिलाएगी,
बाकी है बस चंद सांसे इस दिल में,
रूह भी ना जाने कैसे तेरे बिन रह पाएगी.,

 

hug day shayari in hindi

 

अपनी बाँहों में मुझे बिखर जाने दो,
साँसों से अपनी मुझे महक जाने दो,
दिल बेचौन है कबसे इस प्यार के लिए,
आज तो सीने में अपने मुझे उतर जाने दो.,

 

मन ही मन करती हूँ बातें,
दिल की हर एक बात कह जाती हूँ,
एक बार तो ले लो बाँहों में सजना,
यही हर बार कहते कहते रुक जाती हूँ.,

 

मुझे बाहों में बिखर जाने दो,
अपनी साँसों से महक जाने दो,
ऐसा मौका नहीं आता दुबारा,
आज मुझे अपने सीने से लग जाने दो.,

 

फूलो की तरह महक जाना,
यारो के अपने गले लग जाना,
ऐसे दिन रोज नहीं आते,
कोई हो बुरी बात तो उसे भूल जाना.,

 

एक बार तो मुझे सीने से लगा ले,
अपने दिल के भी सारे अरमान सजा ले,
कबसे है तड़प तुझे अपना बनाने की,
आज तो मौका है मुझे अपने पास बुला ले.,

 

Hug Day Shayari in Hindi for Girlfriend

दोस्तों अब आपको हम आपकी प्रेमिका के लिए कुछ स्पेशल Hug Day Shayari in Hindi for Girlfriend सुनाएंगे वैसे तो आपको यह सभी Hug Day Hindi Shayari पसंद अनी चाहिए क्योकि इनको हम स्पेशल आपके लिए लाये है.

 

ना आप कुछ कहना ना हम कुछ कहेंगे,
आप भी चुप रहना हम भी चुप रहेंगे,
एक दुझे को हम अपनी बाँहों में भरेंगे,
फिर एक लम्बी वाला मस्त सी किस करेंगे.,

 

शिकायतों की पाई – पाई जोड़कर रखी थी मैंने,
उसने गले लगाकर सारा हिसाब ही बिगाड़ दिया.,

 

अब तुझे Facebook या Whatsapp पे नहीं,
अपनी बाहों में Block करने को जी करता है.,

 

जानते हैं हम मोहब्बत – आज़ माई हो चुकी,
आओ लग जाओ गले बस अब लड़ाई हो चुकी.,

 

चाहें कितना भी करूं तुमसे तकरार,
फिर भी बांहों में भरकर तुम्हें,
कर रहा हूं अपने प्यार का इजहार.,

 

hug day shayari in hindi for girlfriend

 

सुनहरा दिन आया है,
अपने संग Hug Day लाया है,
अपने प्यार को जी भर,
गले लगाने का मौका लाया है.,

 

आज बहुत खास दिन है,
मुझे तुम्हें गले लगाना है,
गले तो तुम्हें रोज लगाना चाहते हैं,
आज तो बस हग डे का बहाना है.,

 

हमेशा साथ रहे हैं हम,
ऐसा कोई तो बंदोबस्त कर लो,
हर रात गुजर तेरी बाहों में,
ऐसा कोई तो प्रबंध कर लो.,

 

हम उसे ही गले लगाते हैं,
जो इस इज्जत के काबिल होते हैं.,

 

इन सांसों को महक जाने दो,
खुशी से मुझे चहक जाने दो,
धड़कने काबू में नहीं है अब,
तेरी बाहों में मुझे बहक जाने दो.,

 

हग डे तो बस एक बहाना है,
असल बात तो ये है कि,
मुझे तुम्हे गले से लगाना है.,

 

तुम्हें बांहों में लेकर बैठेंगे,
खूब सारी बातें करेंगे,
सारे ख्वाहिशें पूरी होंगी,
ख्वाबों से सुंदर जिंदगी जिएंगे.,

 

बातो बातो मैं दिल ले जाते हो,
देखते हो इस तरह जान ले जाते हो,
अदाओं से अपनी इस दिल को धर्कते हो,
लेकर बाँहों में सारा जहाँ भूलते हो.,

 

मन ही मन करती हूँ बातें,
दिल की हर एक बात कह जाती हूँ,
एक बार तो ले लो बाँहों में सजना,
यही हर बार कहते कहते रुक जाती हूँ.,

 

तुम्हारी बाँहों में आकर हमें जन्नत मिल गयी सारी,
खुदा से बोल दूँ की अपनी जन्नत अपने पास ही रखे.,

 

 

लग जा गले यह रात फिर न आएगी,
किस्मत भी हमको शायद फिर न मिलाएगी,
बाकी है बस चंद सांसें इस दिल में,
रूह भी न जाने कैसे तेरे बिन रह राएगी.,

 

अपनी बाँहों में मुझे बिखर जाने दो,
साँसों से अपनी मुझे महक जाने दो,
दिल बेचैन है कबसे इस प्यार के लिए,
आज तो सीने में अपने मुझे उतर जाने दो.,

 

मुझको फिर वही सुहाना नजारा मिल गया,
नज़रों को जो दीदार हरा मिल गया,
और किसी चीज की तमन्ना क्यों करूँ,
जब मुझे तेरी बाँहों में सहारा मिल गया.,

 

लग जा गले से ये रात फिर न आएगी,
किस्मत भी शायद हमको फिर न मिलाएगी,
बाकि है बस चंद सांसे इस दिल में,
रूह भी न जाने कैसे तेरे बिन रह पाएगी.,

 

बातों बातों में दिल ले जाते हो,
देखते हो इस तरह जान ले जाते हो,
अदाओं से अपनी इस दिल को धड़कते हो,
लेकर बाहों में सारा जहाँ भूलते हो.,

 

एक बार तो मुझे सीने से लगा ले,
अपने दिल के भी अरमान सजा ले,
कबसे है तड़प तुझे अपना बनाने की,
आज तो मौका है मुझे अपने पास बुला ले.,

 

नाम क्या दूँ मैं अपनी दीवानगी को,

बेचैनी दिल की तड़पने लगी है,

इस रवानगी से में क्या कहूँ,

 जो हर पल तुम्हे याद करने लगी है.,

 

हम अपने प्यार का इज़हार इसलिए नहीं करते,

क्यूंकि हम उनकी हाँ या ना से डरते है,

अगर उन्हों ने कर दी हाँ तो ख़ुशी से मर जायेंगे,

और कर दी ना तो रो-रो कर मर जायेंगे.,

 

इतना ना तड़पाओ मेरे दिल को,
इतना ना सताओ मेरे बाहों को,
ना छुपाओ अपने प्यार को,
आग तो दोनों तरफ ही लगी हैं,
आओ ले लो मुझे अपनी बाहों में,

 

बाहों के दरमियाँ अब दूरी न रहे,
सीने से लगा लो कोई चाहत अधूरी न रहे.,

 

 

अपनी बाँहों में मुझे बिखर जाने दो,
साँसों से अपनी मुझे महक जाने दो,
दिल बेचैन है कबसे इस प्यार के लिए,
आज तो सीने में अपने मुझे उतर जाने दो.,

 

बातों बातों में दिल ले जाते हो,
देखते हो इस तरह जान ले जाते हो,
अदाओं से अपनी इस दिल को धड़काते हो,
लेकर बाहो में सारा जहां भूलाते हों.,

 

देखा हैं जब से तुमको मेरा दिल नहीं हैं बस में,
जी चाहे आज तोड़ दु दुनिया की सारी रश्में,
तेरा हाथ चाहता हूँ तेरा साथ चाहता हूँ,
बाहों में तेरी रहना मैं दिन रात चाहता हूँ.,

 

दिल की एक ही ख़्वाहिश हैं,
धड़कनों की एक ही इच्छा हैं,
कि तुम मुझे अपनी बाहों में पनाह दे दो,
और मैं खो जाऊ.,

 

दिल में प्यार का आगाज हुआ करता है,
बातें करने का अंदाज हुआ करता है,
जब तक दिल को ठोकर नहीं लगती,
सबको अपने प्यार पर नाज हुआ करता है.,

 

रत तो दिखाते हैं गले से नहीं मिलते,
आँखों की तो सुन लेते हैं दिल की नहीं सुनते.,

 

इधर आ रक़ीब मेरे मैं तुझे गले लगा लूँ,
मिरा इश्क़ बे-मज़ा था तिरी दुश्मनी से पहले.,

 

क़त्ल की सुन के ख़बर ईद मनाई मैं ने,
आज जिस से मुझे मिलना था गले मिल आया.,

 

एक प्यारा दोस्त एक तकिया की तरह होता है,
जब आप थके हुए होते हैं तो आप उस पर सोते हैं,
आप दुखी होते हैं तो आप उस पर आँसू गिराते हैं,
जब आप गुस्से में होते हैं तो आप उसे घूंसा मारते हैं,
और जब आप खुश होते हैं तो आप उसे गले लगा लेते हैं.,

 

जो तीर आया गले मिल के दिल से लौट गया,
वो अपने फ़न में मैं अपने हुनर में तन्हा था.,

 

जानते हैं हम,
मोहब्बत-आजमाई हो चुकी,
आओ लग जाओ गले,
बस अब लड़ाई हो चुकी.,

 

एक बार तो मुझे सीने से लगा ले,
अपने दिल के भी सारे अरमान सजा ले,
कबसे है तड़प तुझे अपना बनाने की,
आज तो मौका है मुझे अपने पास बुला ले.,

 

Conclusion

यही सभी Hug Day Shayari आप सभी को काफी पसंद आई होंगी अगर नहीं तो आप हमे कमेन्ट मे बताए हम अपने अगले पोस्ट व  Hindi Shayari मे कुछ अच्छा सुधार करेंगे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.