Intezaar Shayari | 100+ Best Intezaar Shayari in Hindi with Image

दोस्तों आज हम आपको इस पोस्ट के मध्यम से Intezaar shayari पढ़ाने जा रहे जोकी आपको बहुत ज्यादा पसंद आएगी आप इन सभी इंतज़ार शायरी को खुद पढ़ सकते हो या फिर आप इन सभी शायरी को अपने उन खास दोस्तों, रिश्तेदारों व आपको चाहने वाले को भेज सकते हो जिनका आप इंतज़ार कर रहे हो मिलने के लिए।

क्योंकि आज समय मे बहुत से लोगों के पास दूसरों से मिलने का समय नहीं होता लेकिन अगर आपका अपना रिश्ता की डोर को मजबूत रखना है तो आपको किसी भी हाल मे अपनों से मिलन ही पड़ेगा तो आइए आप यह Intezaar Shayari पढिए और इसको अपने दोस्तों व बाकी लोगों को शेयर करिए जिनसे आप मिलन चाहते हो।

आपका यह Intezaar shayari को पढ़ने के बाद आपके मित्र व आपके रिश्तेदार आपके बचैनी को समझेंगे की आप उनसे मिलने के लिए कितने उकसुक हो और फिर वह अपना कीमती समय निकाल कर आपसे मिलने के लिए भी आएंगे। तो आइए पढिए इन सभी Intezaar shayari को और फिर शेयर करके इसे आपके चाहने वालों को अहसास दिलाइए की आप उनको कितना बेचैन है मिलने के लिए।

 

Intezaar shayari in Hindi

अब आइए आपको हम यह Intezaar Shayari in Hindi पढ़ाने जा रहे और मुझे मालूम है की आपको यह Intezar Shayari बहुत पसंद आएगी तो आइए चालू करे पढ़ना इन सभी शायरी को।

 

मुद्दत से ख्वाब में भी नहीं नींद का ख्याल,

हैरत में हूँ ये किस का मुझे इंतज़ार है.,

 

उनकी अपनी मरजी हो,
तो वो हमसे बात करते है,
और हमारा पागलपन देखो क़ि,
सारा दिन उनकी मरजी का इंतजार करते है.,

 

अकेलेपन ने दिल को मज़बूर कर दिया,
हम भी ज़िंदगी से मुँह मोड़ लेते मगर,
तुम्हारे इंतज़ार ने जीने पर मज़बूर कर दिया.,

 

जैसी है तेरी ख्वाइश वैसे प्यार करेंगे,
हर धड़कन पर अपनी वफ़ा का इक़रार करेंगे,
जहाँ भी जाओगे हर कदम हममे ही पाओगे,
इश्क़ के हर मोड़ पर तेरा इंतज़ार करेंगे.,

 

कभी जज़्बात तोह कभी यादवों को दफ़न करते हैं,
कभी आँसू तोह कभी दर्द पिया करते है,
मोहताज तो नहीं हम फिर भी,
आप के प्यार का इंतज़ार किया करते है.,

 

Intezar Shayari

 

ज़ख्म इतने बड़े हैं इज़हार क्या करें,
हम खुद निशाना बन गए वार क्या करें,
मर गए हम लेकिन खुली रह गयी ऑंखें,
अब इससे ज्यादा किसी का इंतज़ार क्या करें.,

 

इंतज़ार तो बहुत था हमें,
लेकिन आये न वह कभी,
हम तो बिन बुलाये ही आ जाते,
अगर होता उन्हें भी इंतज़ार कभी.,

 

उस नज़र की तरफ मत देख,
जो तुमको देखने से इनकार करती है,
दुनिया की भीड़ में उस नज़र को देखो,
जो सिर्फ तुम्हारा इंतज़ार करती है.,

 

उनकी आवाज़ सुनने को बेकरार रहते हैं,
शायद इसी को दुनिया में प्यार कहते हैं,
काटने से भी जो ना कटे वक्त,
उसी को मोहब्बत में इंतज़ार कहते हैं.,

 

तेरे इंतज़ार के मारे है हम,
सिर्फ तेरी ही यादों के सहारे है हम,
तुझे चाहा था जितना इस दुनिया से,
और आज तेरे ही हाथों हारे है हम.,

 

Miss You Shayari

 

अब कैसे कहूँ कि तुझसे प्यार है कितना,
तू क्या जाने तेरा इंतज़ार है कितना.,

 

तड़प के देखो किसी की चाहत में,
तो पता चलेगा, कि इंतजार क्या होता है,
यूं ही मिल जाए, कोई बिना चाहे,
तो कैसे पता चलेगा, कि प्यार क्या होता है.,

 

होंठ कह नही सकते जो फ़साना दिल का,
शायद नजरों से वो बात हो जाए,
इसी उम्मीद में इंतजार करते हैं रात का,
कि शायद सपनों मे ही मुलाकात हो जाए.,

 

सूखे पत्ते से प्यार कर लेंगे,
तुम्हारा ऐतबार कर लेंगे,
तुम ये तो कहो की हम तुम्हारे हैं,
हम ज़िन्दगी भर इंतज़ार कर लेंगे.,

 

जीने की ख्वाइश में हर रोज़ मरते हैं,
वो आये न आये हम इंतज़ार करते हैं,
जूठा ही सही मेरे यार का वादा,
हम सच मानकर ऐतबार करते हैं.,

 

Intezar Shayari

 

मेरी नज़रों में जो खुमार है उसका ही है,
मेरे तस्सवुर में जो हिसार है उसका ही है,
वो मेरे पास आये, साथ रहे न रहे,
मुझे तो बस अब इंतज़ार उसका ही है.,

 

आँखों को इंतज़ार की भट्टी पे रख दिया,
मैंने दिये को आँधी की मर्ज़ी पे रख दिया.,

 

मुझे इंतज़ार करना बेहद पसंद है,
क्योंकि ये वक़्त उम्मीद से भरा होता है.,

 

ये सर्द हवाएं मुझसे कहती है कि दिसम्बर आ गया है,
मुझे उन बाहों की गर्माहट का इंतज़ार आज भी है.,

 

दिल की उम्मीदों का हौंसला तो देखो,
इंतजार उसका जिसको अहसास तक नहीं.,

 

Alone Shayari

 

चले भी आओ तसव्वुर में मेहरबां बनकर,
आज इंतज़ार तेरा, दिल को हद से ज्यादा है.,

 

देर रात तक दहलीज़ पर तेरी बैठी रहीं आँखें,
जब आना था तो कोई ख्वाब ही भेज दिया होता.,

 

किन लफ्जों में लिखूँ अपने इन्तजार को मैं,
मेरा बेजुबां इश्क़ तुझे बड़ी खामोशी से ढूँढता है.,

 

हर शाम इंतज़ार रहता है तेरा,
रातें कटती हैं ले-ले कर नाम तेरा,
हम कबसे बैठे हैं ये आस पाले,
कभी न कभी तो आएगा कोई पैगाम तेरा.,

 

मेरे दिल में फिर कोई दूसरा कभी नहीं आया,
मुझे भरोसा ही कुछ ऐसा था तुम्हारे लौट आने का.,

 

Intezar Shayari

 

तुम मेरे बीते वक़्त थे तुम्हें आना ही नहीं था,
हम तो यूँ ही सारी रात करबटें बदलते रहे.,

 

मैंने कभी ख़ुशी से ख़ुशी की तरफ नहीं देखा,
तुम्हारे बाद हमने किसी की तरफ नहीं देखा,
मुझे यही सोच कर तेरा इंतजार है ऐ जालिम,
इसलिए तमाम उम्र हमने घडी की तरफ नहीं देखा.,

 

हमें कोई मिलता ही नहीं हमारा बनकर,
तुम मिले भी तो सिर्फ एक किनारा बनकर,
मेरा हर ख्वाब टूट के बिखर गया काँच की तरह,
तुम्हारा इंतज़ार है अब तो आ जाओ सहारा बनकर.,

 

मेरा संदेसा उन तक पंहुचा कर कहना,
कि तुम्हें देखने को मेरी आँखें तरस गयीं.,

 

अब मुझे नींद आए भी तो कैसे उनके इंतज़ार में,
वो आने का वादा कर गये आकर के ख्वाब में.,

 

हम उसकी आवाज़ सुनने के लिए बेकरार रहते हैं,
इसी को इस दुनिया में शायद प्यार कहते हैं,
जब काटने से भी नहीं कटता ये तन्हा वक्त,
शायद इसी को मोहब्बत में इंतज़ार कहते हैं.,

 

एक बार तड़प के देखो किसी की चाहत में,
तब पता चलेगा कि इंतजार क्या होता है?
जब यूं ही मिल जाए कोई बिना चाहे किसी को,
तब कैसे पता चलेगा कि प्यार क्या होता है.,

 

हर वक़्त तेरे आने की आस रहती है,
हर पल तुमसे मिलने की प्यास रहती है,
सब कुछ है यहाँ बस तू नही,
इसलिए शायद ज़िन्दगी उदास रहती है.,

 

उस अजनबी से तुझे इतना प्यार क्यों है,
इंकार करने पर भी चाहत का इन्तजार कतु है,
उसे पाना नही मेरी किश्मत में सायद,
फिर भी हर मोड़ पे उसी का इन्तजार क्यों है.,

 

फिर आज कोई गजल तेरे नाम न हो जाये,
कहीं लिखते लिखते शाम न हो जाये,
कर रहे हैं इंतज़ार तेरी मोहब्बत का इसी इंतज़ार में,
तमाम न हो जाये.,

 

Intezar Shayari

 

पियार बहुत है तुमसे मगर इज़हार नहीं करते,
मेरी ख़ामोशी से यह न समझना की तुमसे पियार नहीं करते,
मेरी आँखें तो हर लम्हा तुम्हारी राह देखती है.,

 

तेरे इंतज़ार में कब से उदास बैठे है तेरे दीदार में आँखें बिछाये बैठे है,
तो एक नज़र हम को देख ले इस आस में कब से बेकरार बिअठे है.,

 

मोहब्बत का इम्तिहान आसान नही,
प्यार सिर्फ पाने का तो नाम नही,
मुद्दते बीत जाती है किसी के इंतज़ार में,
ये सिर्फ पल दो पल का काम नही.,

 

दिल मे इंतज़ार की लकीर छोड़ जाएंगे,
आंखों में यादों की नमी छोड़ जाएंगे,
ढूंढते फिरोगे हमे एक दिन,
ज़िन्दगी में एक यार की कमी छोड़ जाएंगे.,

 

हर वक्त तेरे आने की आस रहती हैं,
हर पल तुझसे मिलने की प्यास रहती हैं,
सब कुछ है यहाँ बस तू नही,
इसलिए शायर ये ज़िन्दगी उदास रहती हैं.,

 

Best Intezaar Shayari

दोस्तों अब आपको हम इन सभी Intezaar Shayari की कुछ स्पेशल Best Intezaar Shayari आपको पढ़ाने जा रहे जो की आपको जरूर पढ़ना चहाइए और इसको अपने दोस्तों मे शेयर भी करना चहाइए।

 

जीने की ख्वाहिश में हर रोज मरते हैं,
वो आये न आये हम इंतजार करते हैं.,

 

जुल्फों पे बिखरी हैं शमा का नशा,
इस इंतजार में भी है एक दिलकश अदा.,

 

हमेशा दिल में मेरे लिए प्यार रखना,
हमारे प्यारे से रिश्ते को कायम रखना,
हम कभी खो भी जाये इस राह में,
तो मेरा इंतज़ार जरुर रखना.,

 

तेरे बिना कैसे मेरी गुजरेंगी ये रातें,
तन्हाई का गम कैसे सहेंगी ये रातें,
बहुत लम्बी है ये घड़ियाँ इंतज़ार की,
करबट बदल-बदल कर काटेंगी ये रातें.,

 

मजा तो हमने इंतजार में देखा है,
चाहत का असर प्यार में देखा है,
लोग ढूंढ़ते हैं जिसे मंदिर मस्जिद में,
उस खुदा को मैने आपमें देखा है.,

 

Intezar Shayari

 

एक आरज़ू है अगर पूरी परवरदिगार करे,
मैं देर से जाऊं और वो मेरा इंतज़ार करे.,

 

इस बहते दर्द को मत रोको,
यह तो सज़ा है किसी के इंतेज़ार की,
लोग इन्हे आँसू कहे या दीवानगी,
पर यह तो निशानी है किसी के प्यार की.,

 

वो हर शाम का तुम्हारा इंतज़ार करते करते,
तुम्हारे बग़ैर भी तुम्हारे ही साथ गुज़र जाना.,

 

जलाकर हसरत की राह पर चिराग आरजू के,
हम तन्‍हा रातों में तेरे मिलने का इंतजार करते हैं.,

 

किन लफ्जों में लिखूँ मैं अपने इंतज़ार को तुम्हें,
बेजुबां है इश्क़ मेरा ढूंढ़ता है खामोशी से तुझे.,

 

कभी किसी का जो होता था इंतजार हमें,
बड़ा ही शाम -ओ -शहर का हिसाब रखते थे.,

 

उस जगह मत जाएं जहा लोग आपको बर्दास्त करते हो
उस जगह जाए जहा लोग आपका इंतज़ार करते हो.,

 

हम सुरत पर नहीं सिरत पे मरते है,
उनसे कहना तुम्हारा हुसन ढल भी जाए तो लौट आना.,

 

कुछ रोज़ यह भी रंग रहा तेरे इंतज़ार का,
आँख उठ गई जिधर बस उधर देखते रहे.,

 

कब वो आएँगे इलाही मिरे मेहमाँ हो कर,
कौन दिन कौन बरस कौन महीना होगा,
कभी दर पर कभी है रस्ते में,
नहीं थकती है इंतिज़ार से आँख.,

 

 

मोहब्बत हम तुझसे बेशुमार करते है,
के पल भी ना गुजरे तेरे बिना,
हर वक़्त में रहूं सिर्फ तेरे इंतज़ार में.,

 

पलको से ये आंखे सवाल करती हैं,
वक़्त बे वक़्त तुम्हे याद करती हैं,
देख न ले ये आंखे तुम्हे तबतक,
ये हर घडी तुम्हारा इंतज़ार करती हैं.,

 

मेरी तन्हाई तुम्हे आवाज दे रही है,
दिल की धड़कन तुम्हे आवाज़ दे रही है,
आ भी जा की बहुत इंतज़ार किया मैंने,
ये शोक फ़िज़ा तुम्हे आवाज़ दे रही है.,

 

नज़रो से जब नज़र का तकरार होता हैं,
हर मोड़ पर किसी का इंतज़ार होता है,
दिल रोता है ज़ख़्म हस्ता है,
शायद इसी का नाम तो प्यार होता हैं.,

 

टूट रही है सांसे मगर इंतज़ार अभी बाकी है,
आने से पहले जाएंगे नही ये आस अभी बाकी है,
देखते है कब आते है वो आखरी वक्त में,
मुझे कहनी है उनसे जो दिल की बात अभी बाकी है.,

 

दिल ये हमारा बेकरार हो रहा हैं,
लगता है हमे आपसे प्यार हो रहा हैं,
आप आ जाये यहां जल्दी से,
आपका बेसबरी से इंतज़ार हो रहा है.,

 

मोहब्बत का इम्तिहान आसान नही,
प्यार सिर्फ पाने का तो नाम नही,
मुद्दते बीत जाती है किसी के इंतज़ार में,
ये सिर्फ पल दो पल का काम नही.,

 

हुस्न वालो हमे ऐसे सताया ना करो,
मोहब्बत की समा पल भर में बुझाया ना करो,
इंतज़ार की ये घड़िया कयामत सी लगती है,
ना आना हो तो हमे अकेले में बुलाया ना करो.,

 

मरकर भी तड़पती हूँ तेरे इंतज़ार में,
आग लग गयी है मेरे इस दिल ए बेकरार में,
मिलने का मज़ा है जो तेरे इंतज़ार में,
दर्द उभरता है कदम रखते ही प्यार में.,

 

यू पलके बिछा के इंतज़ार करते है,
ये वो गुनाह है जो बार बार करते है,
जलकर हसरत की राह पे चिराग,
हम सुबह और शाम तेरा इंतज़ार करते है.,

 

 

तेरे इंतज़ार में पलके बिछाये बैठे हैं,
वो आएंगे इसलिए उम्मीद जगाये बैठे है,
ना तोड़ना कभी मिलने का वादा मुझसे,
की हम अब तो अपनी जान की बाजी लगा बैठे हैं.,

 

हर साम से तेरा इज़हार किया करते हैं,
हर खवाब में तेरा दीदार किया करते है,
दीवाने ही तो है हम तेरे,
जो हर वक्त तेरे मिलने का इंतजार किया करते है.,

 

क्या करूँगा उसका इंतजार करके,
जब चली गयी वो मुझे बर्बाद करके,
सोचा था अपना भी यहां एक जहा होगा,
मगर मिली सिर्फ तन्हाई उससे प्यार करके.,

 

उस अजनबी का यू इंतज़ार ना करो,
उस आशिक़ दिल का ऐतबार ना करो,
रोज़ निकला करे कीसी की याद में आंसू,
इतना कभी किसी से प्यार ना करो.,

 

हम अपने आप मे यू गुम हुए है मुद्दत से,
हमे तो जैसे किसी का भी इंतज़ार नही,
किसी को टूटकर चाहे या चाह कर टूटे,
हमे पास तो इतना भी इख्तियार नही.,

 

आसमान के तारे अक्सर पूछा करते हैं,
क्या तुम्हें अब भी इंतज़ार है उसके लौट आने का,
और दिल मुस्कुरा के कहता हैं,
मुझे तो अब भी यकीन नही उसके जाने का.,

 

चल हम तेरा इंतज़ार करते हैं,
बता तो जा तू आयेगा कब तक,
मेरे लफ़्ज़ों की बस कदर करना,
मैं युही तेरी यादों में रहूंगा ज़िन्दगी भर.,

 

नज़रो से नजरो का टकराव होता है,
हर मोड़ पर आपका इंतज़ार होता है,
फूट-फूट कर दिल रोता है और ज़ख़्म हस्ते है,
शायद इसी का नाम तो प्यार है.,

 

तुम मिले हर खुशी मिल गयी है,
लगता है कि दूसरी ज़िन्दगी मिल गयी है हमें,
ज़िन्दगी में जिसका था सालो से इंतज़ार हमे,
जीवन का साथी बिना मांगे मिल गया हमे.,

 

कभी कभी खयालो में तेरा इंतेज़ार करते है,
यू ही मेरे दोस्तों हम खिजा से बहार भरते है,
शाम होते ही एक तड़प सी भर जाती है दिल मे,
अपनी तन्हायों से सनम हम बहुत प्यार करते है.,

 

उदास आंखों में सब्र देखा है,
पहली बार उसे इतना खुश और बेकरार देखा है,
जिसे फर्क ना पड़ता था मेरे आने जाने से,
उसकी आंखों में भी अब इंतज़ार देखा है.,

 

Conclusion

यही सभी Intezaar Shayari आप सभी को काफी पसंद आई होंगी अगर नहीं तो आप हमे कमेन्ट मे बताए हम अपने अगले पोस्ट व  Hindi Shayari मे कुछ अच्छा सुधार करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *