Krishna Shayari – दोस्तों आप सभी लोग श्री कृष्ण जी के बहुत बड़े भक्त है क्योंकि श्री कृष्ण जी की जीवन के बारे मे आप सभी लोग जानते होंगे क्योंकि हर वर्ष हम सभी लोंग श्री कृष्ण जी के जन्म उत्सव को बड़ी ही धूम धाम से मानते है।

इस अवसर को हम सभी हिन्दू भी श्री कृष्ण जी के जन्म उत्सव को बहुत धूम धाम से मानते मानो जैसे हर किसी के घर खुद भगवान जन्म लेंगे और उसी अवसर मे हम सभी लोंग अपने अपने घरों मे अच्छे से झकी को सजाते और उसमे भगवान श्री कृष्ण जी की लीला को झकी के द्वारा दरसते है।

इस के  बहुत लोंग अपने घर मे छोटे बच्चों के राधा रानी के कपड़े पहन कर भगवान की लीला का प्रदर्शन करते है इन सभी चीजों के साथ – साथ हम सभी लोंग एक दूसरे को इस अवसर की बधाई भी देते है।

लेकिन इस बार हम आपके लिए कुछ अच्छी सी Krishna Shayari भी लाए है जिसे आप अपने दोस्तों को शेयर करके बधाई दे सकते है ताकि वह आपके इस सम्मान को अच्छे से याद कर सके।

तो आइए हमारे साथ पढिए इन सभी Krishna Shayari को जो आपके जीवन मे बहुत कुछ परिवर्तन ल सकती है तो आइए सुरू करते है पढ़न इन सभी Krishna Shayari को बिना कोई परेशानी।

 

Radha Krishna Shayari in Hindi

अब आइए आपको पढ़ते है कुछ स्पेशल Radha Krishna Shayari in Hindi जो दिखने मे भले ही शायरी की तरह है लेकिन यह आपको श्री कृष्ण भगवान के जीवन के सभी लीला का दर्शन करवा देगी तो आइए सुरू करे पढ़ना Krishna Shayari

 

 

 श्री कृष्ण कहते है मनुष्य को जीवन में श्रेष्ट बनने का प्रयास आवश्य,

 करना चाहिए परन्तु जीवन में हमेशा उत्तम ही रहना चाहिए.,

 

अगर किसी को सदा सदा के लिए खोना नहीं चाहते,

तो समय समय पर उससे दूरी बनाए रखना आवश्यक होता है.,

 

अधूरी कहानी पर खामोश लबों का पहरा है,

चोट रूह की है इसलिए दर्द जरा गहरा है.,

 

प्रेम एक ऐसा अनुभव है जो मनुष्य को कभी परास्त नहीं होने,

देता और घृडा एक ऐसा अनुभव है जो मनुष्य को कभी जितने नहीं देता.,

 

न रास्तों ने साथ दिया, न मंजिल ने इंतज़ार किया में क्या लिखूं,

अपनी ज़िन्दगी पर मेरे साथ तो उम्मीदों ने भी मजाक किया.,

 

krishna shayari

 

हे कान्हा फर्क बस इतना ही है हम दोनों की तन्हाई में,

तुम्हारे पास तो फिर भी तुम हो मेरे पास तो में भी नहीं हूँ.,

 

परमात्मा के बाद इस दुनिया में,

अगर कोई पवित्र चीज़ है तो वो है प्रेम.,

 

श्री कृष्ण कहते थे प्रेम का अर्थ किसीको,

पाना नहीं किन्तु उसमे खो जाना है.,

 

बड़ी बरकत है कान्हा तेरे इश्क़ में,

जब से हुआ है कोई दूसरा दर्द ही नहीं होता.,

 

जब मनुष्या को अपने धर्म पर अहंकार हो जाता है,

तब उसके हाथों अधर्म होने लगता है.,

 

Bachpan Shayari

 

बहुत खूबसूरत है मेरे ख्यालों की दुनिया,

बस कृष्ण से शुरू और कृष्ण पर ही ख़तम.,

 

जरुरी नहीं की हर रिश्ता बेवफाई से ही खत्म हो,

कुछ रिश्ते किसी की ख़ुशी के लिए खत्म करने पड़ते हैं.,

 

मुस्कुराने के मकसद न ढूँढो,

वर्ना जिन्दगी यूँ ही कट जाएगी,

कभी बेवजह भी मुस्कुरा के देखो,

आपके साथ साथ जिन्दगी भी मुस्कुरायेगी.,

 

अच्छे संस्कारों का निर्माण,

 किसी बाजार में नहीँ,

बल्कि,परिवार की देन से होते हैं.,

 

सब्र और सहनशीलता,

कोई कमजोरियां नहीं होती है,

ये तो वो अंदरुनी ताकते है,

जो केवल मजबूत लोगों में होती है.,

 

radha krishna shayari

 

दिल के रिश्ते का कोई नाम नहीं होता,

हर रिश्ते का कोई मुकाम नहीं,

होता अगर निभाने की चाहता हो दोनों तरफ से तो,

कोई रिश्ता नाकाम नहीं होता.,

 

कैसे लफ्जों में बयां करू खूबसूरती तुम्हारी,

सुंदरता का दरिया भी तुम हो मेरे श्याम.,

 

रूप बड़ा प्यारा है चेहरा बड़ा निराला है बड़ी से,

बड़ी मुसीबत को कन्हैया ने पल भर में हल कर डाला है.,

 

गोकुल में है जिनका वास् , गोपियों संग करे निवास,

देवकी यशोदा है जिनकी मैया ऐसे है हमरे कृष्ण कन्हैया.,

 

कृष्ण ने राधा से पूछा ऐसी एक जगह बताओ जहा में,

नहीं हूँ, राधा ने मुस्कुरा के कहा बस मेरे नसीब में.,

 

Khubsurat Shayari

 

जो आसानी से मिल जाता है वो हमेशा तक नहीं रहता,

जो हमेशा तक रहता है वो आसानी से नहीं मिलता.,

 

जिस प्रकार दिल को धड़क्कन की ज़रूरत होती है,

ठीक इसी प्रकार मुझे तुम्हारी ज़रूरत है गोविन्द.,

 

प्रेम को भी खुद पर गुमान है क्योंकि,
राधा-कृष्ण का प्रेम हर दिल में विराजमान हैं.,

 

राधा को कन्हैया ने प्यार का पैगाम लिखा,
पूरे खत में सिर्फ़ राधा-राधा नाम लिखा.,

 

मधुवन में भले ही कान्हा किसी गोपी से मिले,
मन में तो राधा के ही प्रेम के है फूल खिले.,

 

radha krishna shayari in hindi

 

“राधा” के सच्चे प्रेम का यह ईनाम हैं,
कान्हा से पहले लोग लेते राधा का नाम हैं.,

 

प्रेम की भाषा बड़ी आसान होती हैं,
राधा-कृष्ण की प्रेम कहानी ये पैगाम देती हैं.,

 

यदि प्रेम का मतलब सिर्फ पा लेना होता,
तो हर हृदय में राधा-कृष्ण का नाम नही होता.,

 

दरबार हजारों देखे है, पर ऐसा कोई दरबार नहीं,
जिस गुलशन में तेरा नूर न हो, ऐसा तो कोई गुलजार नहीं.,

 

जब प्रेम का सुरूर मेरे दिल पर छाता है,
मेरा हृदय चारों तरफ राधा-कृष्ण को ही पाता है.,

 

Radha Krishna Shayari

दोस्तों अब आपको हम  पढ़ने जा रहे Radha Krishna Shayari क्योंकि आप सभी लोंग श्री कृष्ण और राधा के साथ को तो जानते ही होंगे जहां पर इन्होंने यह साबित कर दिया की जीवन मे प्यार का मतलब साथ ही नहीं होता तो आइए पढ़ते है radha krishna love shayari जो आपको बहुत पसंद आएगी।

 

हे अर्जुन के सारथी मुझको भी ऐसा ज्ञान दो,
तेरे प्रेम की ज्योति को जलाये रखू, ऐसा बरदान दो.,

 

राधा के सच्चे प्रेम का यह इनाम है,

कान्हा से पहले लोग लेते राधा का नाम है.,

 

यदि प्रेम का मतलब सिर्फ पा लेना होता,

तो हर हृदय में राधा-कृष्ण का नाम नही होता.,

 

राधा कृष्ण का मिलन तो बस एक बहाना था,

दुनियाँ को प्यार का सही मतलब जो समझाना था.,

 

राधा के सच्चे प्रेम का यह ईनाम हैं,

कान्हा से पहले लोग लेते राधा का नाम हैं.,

 

 radha krishna love shayari

 

कान्हा को राधा ने प्यार का पैगाम लिखा,

पुरे खत में सिर्फ कान्हा कान्हा नाम लिखा.,

 

प्रेम की भाषा बड़ी आसान होती हैं,

राधा-कृष्ण की प्रेम कहानी ये पैगाम देती हैं.,

 

कृष्ण की प्रेम बाँसुरिया सुन भई वो प्रेम दिवानी,

जब-जब कान्हा मुरली बजाएँ दौड़ी आये राधा रानी.,

 

कान्हा तुझे ख्वाबों में पाकर दिल खो ही जाता हैं,

खुदको जितना भी रोक लू, प्यार हो ही जाता हैं.,

 

हे कान्हा, तुम संग बीते वक़्त का मैं कोई हिसाब नहीं रखती,

मैं बस लम्हे जीती हूँ, इसके आगे कोई ख्वाब नहीं रखती.,

 

कर्तव्य पथ पर जाते-जाते केशव गये थे रूक,

देख दशा राधा रानी, ब्रम्हा भी गये थे झुक.,

 

अब तो आँखों से भी जलन होती हैं मुझे ए कान्हा,

खूकि हो तो तलाश तेरी और बंद हो तो ख्वाब तेरे.,

 

 कोई प्यार करे तो राधा-कृष्ण की तरह करे,

जो एक बार मिले, तो फिर कभी बिछड़े हीं नहीं.,

 

जब सुकून ना मिले दिखावे की बस्ती में,

तब खो जाना मेरे श्याम की मस्ती में.,

 

हर पल, हर दिन कहता हैं कान्हा का मन,

तू कर ले पल-पल राधा का सुमिरन.,

 

radha krishna shayari in gujarati

 

पर्दा ना कर पुजारी दिखने दे राधा प्यारी,

मेरे पास वक्त कम हैं, और बाते हैं ढेर सारी.,

 

 पता नहीं मजाक था या प्यार का पैगाम लिखा था,

जब मैनें राधा और उसने श्याम लिखा था.,

 

 बहुत खूबसूरत है मेरेख्यालों की दुनिया,

बस कृष्ण से शुरू औरकृष्ण पर ही खत्म.,

 

मटकी तोड़े माखन खाए फिर भी सबके मन को भाये,

राधा के वो प्यारे मोहन महिमा उनकी दुनिया गाये.,

 

राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आएंगे,

एक बार आ गए तो कभी नहीं जायेंगे.,

 

सांवरे तेरी मोहब्बत को नया अंजाम देने की तैयारी हैं,

कल तक मीरा दीवानी थी आज मेरी बारी हैं.,

 

हर पल आंखों में पानी हैं क्योंकि चाहत में रुहानी हैं,

मैं हूँ तुझसे, तू हैं मुझसे, अपनी बस यही कहानी हैं.,

 

राधा-राधा जपने से हो जाएगा तेरा उद्धार,

क्योंकि यही वही वो नाम हैं जिससे कृष्ण को हैं प्यार.,

 

मधुवन में भले ही कान्हा किसी गोपी से मिले,

मन में तो राधा के ही प्रेम के हैं फूल खिले.,

 

दे के दर्शन कर दो पूरी प्रभु मेरे मन की तृष्णा,

कब तक तेरी राह निहारूं अब तो आओ कृष्णा.,

 

 

हे कान्हा !मैं कौन सा ऐसा कर्म करूं,

कि तेरे चरणों में जगह पा जाऊं,

मुझे रिश्तों की लम्बी कतारों से क्या मतलब,

कोई दिल से हो मेरा, तो एक कृष्ण ही काफ़ी हैं.,

 

 कृष्णा के कदमो पे कदम बढाते चलो,

अब मुरली नही तो सीटी बजाते चलो.,

 

पता नहीं मजाक था या प्यार का पैगाम लिखा था,

जब मैनें राधा और उसने श्याम लिखा था.,

 

गोपियाँ तो आज भी पट जाएँगी,

लेकिन मुझे अपनी रूठी हुयी राधा ही चाहिए.,

 

 कृष्ण की प्रेम बाँसुरिया सुन भई वो प्रेम दिवानी,

जब-जब कान्हा मुरली बजाएँ दौड़ी आये राधा रानी.,

 

Radha Krishna Ki Shayari

आइए अब Radha Krishna ki Shayari मे कुछ प्रमुख शायरी की बारी है जो आपको एक बार जरूर पढ़ना चाहिए क्योंकि यह शायरी आपको बहुत ही अच्छी सिख देंगी आपके जीवन मे।

 

ए जन्नत अपनी औकात में रहना,
हम तेरी जन्नत के मोहताज नही,
हम श्री बांकेबिहारी के चरणों में रहते है,
वहां तेरी भी कोई औकात नही.,

 

राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आएंगे,
एक बार आ गए तो कभी नहीं जायेंगे.,

 

कान्हा को राधा ने प्यार का पैगाम लिखा,
पूरे खत में सिर्फ कान्हा-कान्हा नाम लिखा.,

 

कोई प्यार करे तो राधा-कृष्ण की तरह करे,
जो एक बार मिले, तो फिर कभी बिछड़े हीं नहीं.,

 

राधा-राधा जपने से हो जाएगा तेरा उद्धार,
क्योंकि यही वो नाम है जिससे कृष्ण को प्यार.,

 

 

हर पल, हर दिन कहता है कान्हा का मन,
तू कर ले पल-पल राधा का सुमिरन.,

 

राधा कृष्ण का मिलन तो बस एक बहाना था,
दुनिया को प्यार का सही मतलब जो समझाना था.,

 

कृष्ण की प्रेम बाँसुरिया सुन भई वो प्रेम दिवानी,
जब-जब कान्हा मुरली बजाएँ दौड़ी आये राधा रानी.,

 

“राधा” के सच्चे प्रेम का यह ईनाम हैं,
कान्हा से पहले लोग लेते राधा का नाम हैं.,

 

यदि प्रेम का मतलब सिर्फ पा लेना होता,
तो हर हृदय में राधा-कृष्ण का नाम नही होता.,

 

राधा की कृपा, कृष्णा की कृपा, जिस पर हो जाए,
भगवान को पाए, मौज उड़ाए, सब सुख पाए.,

 

अधुरा हैं मेरा इश्क तेरे नाम के बिना,
जैसे अधूरी हैं राधा श्याम के बिना.,

 

राधे राधे बोल, श्याम भागे चले आएंगे,
एक बार आ गए तो कभी नहीं जायेंगे.,

 

कान्हा को राधा ने प्यार का पैगाम लिखा,
पूरे खत में सिर्फ कान्हा-कान्हा नाम लिखा.,

 

 

राधा-राधा जपने से हो जाएगा तेरा उद्धार,
क्योंकि यही वो नाम है जिससे कृष्ण को प्यार.,

 

राधा कृष्ण का मिलन तो बस एक बहाना था,
दुनिया को प्यार का सही मतलब जो समझाना था.,

 

कृष्ण की प्रेम बाँसुरिया सुन भई वो प्रेम दिवानी,
जब-जब कान्हा मुरली बजाएँ दौड़ी आये राधा रानी.,

 

मधुवन में भले ही कान्हा किसी गोपी से मिले,
मन में तो राधा के ही प्रेम के हैं फूल खिले.,

 

यदि प्रेम का मतलब सिर्फ पा लेना होता,
तो हर हृदय में राधा-कृष्ण का नाम नही होता.,

 

सांवरे तेरी मोहब्बत को, नया अंजाम देने की तैयारी हैं,
कल तक मीरा दीवानी थी, आज मेरी बारी हैं.,

 

अधुरा हैं मेरा इश्क तेरे नाम के बिना,
जैसे अधूरी हैं राधा श्याम के बिना.,

 

Conclusion

यही सभी Krishna Shayari आप सभी को काफी पसंद आई होंगी अगर नहीं तो आप हमे कमेन्ट मे बताए हम अपने अगले पोस्ट व  Hindi Shayari मे कुछ अच्छा सुधार करेंगे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.