Teachers Day Shayari | 70 + Teachers Day Shayari in Hindi with Image

सभी Teachers Day Shayari – दोस्तों जीवन मे एक शिक्षक की भूमिका बहुत अहम होती क्योंकि माँ केवल हमे पैदा करती साथ मे हमे बड़ा करती लेकिन एक शिक्षक ही सभी को जीवन मे आगे बढ़ने और संभाल के चलने के लिए मार्ग दर्शक बंता है।

इस लिए आज हम आपको यह कुछ स्पेशल Teachers Day Shayari लेकर आए है जिसे आप अपने प्रिय टीचर की भेज कर उन्हे शिक्षक दिवस की बधाई दे सकते है इसी के साथ आप अपने उन सभी टीचर्स के लिए यह सभी Teachers Day Shayari अपने स्टैटस पर लगा सकते है।

जीवन मे भले ही हम कितने आगे क्यों न बढ़ जाए लेकिन जीवन मे आगे चलना और अपने आप को सफल बनाने मे केवल एक शिक्षक ही ऐसा एक मात्र सखस होता जो बिना किसी स्वार्थ के आपका जीवन मे आने वाली सभी मुसीबत मे साथ देगा और आपको उस मुसीबत से बाहर निकाल कर लाएगा।

इस लिए आइए आज सम सभी मिल कर अपने सभी शिक्षक को यह Shayari for Teachers सेंद करे और उन्हे इस बात का अहसास दिलाए की आज आप जिस भी मुकाम पर हो उसका पूरा क्रेडिट केवल आप है।

 

Teachers Day Shayari in Hindi

अब आइए आपको हम यह सभी Teachers Day Shayari in Hindi पढ़ाने जा रहे जो आपको बहुत अधिक पसंद आएगी और साथ मे आप इन सभी Teachers Day Shayari को अपने टीचर को भी शेयर कर सकते है।

 

 

शिक्षक ने पूछा – घर पर क्या बताओगे बेटा,
मैंने तो तुम्हारे लंच बॉक्स का खाना खा लिया,
छात्र ने बड़े मासूमियत सी बोला गुरूजी,
घर पर बोल दूँगा इक कुत्ते ने खा लिया.,

 

अरमान में काली घटा छाई है,
आज फिर टीचर से मार खाई है,
सब कहते है सुधर जा सुधर जा,
पर क्या करे आज मैडम फिर,
कैटरीना बनके आई है.,

 

गुरूजी ने पूछा जिसको सुनाई नही देता,
उसको हम क्या कहेंगे,
छात्र बोला उससे कुछ भी बोल दीजिये,
फर्क क्या पड़ेंगे.,

 

अज्ञान से ज्ञान का रास्ता दिखाया,

शिक्षा का महत्व हमें समझाया,

सत्य की राह पर चलना सिखाया,

मेरे गुरु ने मुझे जीवन जीना सिखाया.,

 

ना भेद था मन में कभी आपके,

ना माया का जंजाल था,

शिष्य हो ऊंचे पद पर मेरे,

एक शिक्षक को ये अभिमान था.,

 

Teachers Day Shayari

 

बुझती उम्मीद में भी रोशनी दिखायी है,

ज्ञान के अंधकार में ज्योति जलायी आपने,

रोशन कर दिया सारा जहां को ,

ऐसा ही एक महान गुरु को मैने पाया है.,

 

उंगली की तान से संगीत सजाया आपने,

उंगली पकड़कर मुझे लिखना सिखाया आपने,

जिंदगी का सही गलत का पाठ पढ़ाया,

कोई रिश्ता ना था आपसे फिर भी हमको सफल बनाया आपने.,

 

गुमनामी के अंधेरे से निकाल कर,

मुझे लक्ष्य तक पहुँचा दिया,

गुरु की कृपा कुछ ऐसे हुई कि,

मुझे एक काबिल इंसान बना दिया.,

 

शिक्षक हमें शिक्षा दो, जीवन राह दो,
हारे को हरिनाम दो, डूबते को सहारा दो,
जब भी मुश्किल आये, ज्ञान गंगा दो,
हे गुरुदेव हमें जीवन जीने की राह दो.,

 

जीने की कला सिखाते शिक्षक,
ज्ञान की कीमत बताते शिक्षक,
पुस्तकों के होने से कुछ नहीं होता,
अगर मेहनत से नहीं पढ़ाते शिक्षक.,

 

Vidai Shayari 

 

दिया ज्ञान का भण्डार हमें,
किया भविष्य के लिए तैयार हमें,
हैं आभारी उन गुरुओं के हम,
जो किया कृतज्ञ अपार हमें.,

 

रौशनी बनकर आये जो हमारी जिंदगी में,
ऐसे गुरुओ को मैं प्रणाम करता हूँ,
जमीन से आसमान तक पहुंचाने का जो रखते हैं हुनर,
ऐसे Teachers को मैं दिल से सलाम करता हूँ.,

 

गुरु का महत्व कभी होगा ना कम,
भले कर ले कितनी भी उन्नति हम,
वैसे तो है इंटरनेट पे हर प्रकार का ज्ञान,
पर अच्छे बुरे की नहीं है उसे पहचान.,

 

ले गए आप इस स्कूल को उस मुकाम पर,
गर्व से उठते हैं हमारे सर , हम रहे ना रहे कल,
याद आएंगे आपके साथ बिताये हुए पल,
हमे आपकी जरुरत रहेगी हर पल.,

 

धुल थे हम सभी आसमां बन गये,
चाँद का नूर ले कहकंशा बन गये,
ऐसे सर को भला कैसे कर दे विदा,
जिनकी शिक्षा से हम क्या से क्या बन गये.,

 

Teachers Day Shayari

 

गुरु का महत्व कभी न होगा कम,
भले कर ले कितनी भी उन्नति हम,
वैसे तो हैं इंटरनेट पे हर प्रकार का ज्ञान,
पर अच्छे बुरे की नहीं हैं उसे पहचान.,

 

जल जाता है वो दिए की तरह,
कई जीवन रोशन कर जाता है,
कुछ इस तरह गुरू अपना फर्ज निभाता हैं.,

 

मेहनत की राह पर चलना सिखाते है,
जुनून की आग में जलना सिखाते है,
जिनको कितना सताले कभी नहीं रुठते,
वो ही हम बच्चो में सफल इंसान ढूंढते.,

 

वो अध्यापक है जो बच्चे को सोने-सा तपाते,
उस पर पुरजोर मेहनत कर किसी काबिल बनाते,
उन्हें बेहद ख़ुशी का एहसास होता है तब,
जब बच्चे उनके उनसे आगे बढ़ जाते. ,

 

हमेशा चिंता में आप हमारे रहते,
कुछ भी बोले आपसे, पर आप कुछ ना कहते,
देते है अपने Students को एकदम निखार,
उन अध्यापकों को हमारा शत-शत नमस्कार.,

 

Umeed Shayari 

 

शिक्षा की कद्र करना सिखाते हो,

जीवन को कैसे जीना बताते हो,

अपने कर्तव्यों से कभी विमुख नहीं होते,

चाहे बच्चे आपको कितना ही सताते हो.,

 

जो बनाए हमें इंसान,
और दे सही-गलत की पहचान,
देश के उन निर्माताओं को,
हम करते हैं शत-शत प्रणाम.,

 

माता देती है जीवन पिता देते हैं सुरक्षा,
पर शिक्षक सिखाता है जीना जीवन एक सच्चा.,

 

जीवन में कभी हार न मानना,
संघर्षों से कभी न भागना,
मुसीबतों का करना डट कर सामना,
हो कुछ भी सच्चाई के मार्ग पर ही चलना,
ये आप ही तो हमें सिखाते हैं,
इसलिए शिक्षक आप कहलाते हैं.,

 

गुमनामी के अँधेरे से निकाल एक पहचान बना दिया,
दुनिया के ग़म से मुझे अनजान बना दिया,
कृपा हुई गुरु की मुझपर कुछ ऐसी,
मुझ जैसे नाकाबिल को भी इंसान बना दिया.,

 

Teachers Day Shayari

 

तुमने सिखाया ऊंगली पकड़ कर चलना,
तुमने सिखाया कैसे गिरने के बाद संभालना,
तुम्हारी वजह से आज हम पहुंचे हैं इस मुकाम पे,
शिक्षक दिवस के दिन करते हैं आभार सलाम से.,

 

शिक्षक दिवस साल में आता,
सभी शिक्षक का सम्मान दिखता,
पांच सितम्बर सबको भाता,
जीवन को नव दिशा दिखता.,

 

गुरु तेरे उपकार का,
कैसे चुकाऊं मैं मोल,
लाख कीमती धन भला,
गुरु हैं मेरे अनमोल.,

 

आपने बनाया है मुझे इस योग्य,
की प्राप्त करू मैं अपना लक्ष्य,
दिया है हर समय आपने सहास,
जब भी लगा मुझे की में हारा.,

 

शिक्षक के बिन ये दुनिया क्या,
कुछ भी नही बस अंधकार यहाँ,
शत – शत नमन उन शिक्षको को,
जिनके कारण रोशन हैं सारा जहाँ.,

 

Shayari for Teachers

अब आइए आपको हम यह कुछ स्पेशल Shayari for Teachers पढ़ाने जा रहे जो आपको और भी अधिक पसंद आएगा तो आइए हमारे साथ पढिए इन सभी Shayari on Teachers Day को बिना किसी परेशानी।

 

अक्षर- अक्षर हमें सिखाते हैं,
जीवन क्या है समझाते हैं,
वही तो हमारे सच्चे गुरू कहलाते है.,

 

आपने बनाया है मुझे इस योग्य,
की प्राप्त करूं मैं अपना लक्ष्य,
दिया है हर समय आपने सहारा,
जब भी लगा मुझे, की मैं हारा.,

 

दिया ज्ञान का भंडार मुझे,
किया भविष्य के लिए तैयार मुझे,
जो किया आपने उस उपकार के लिए,
नहीं शब्द मेरे पास आभार के लिए,
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं.,

 

आप हमें पढ़ाते हो,
आप हमे समझाते हो,
ह बच्चों का भविष्य,
आप ही तो बनाते हो,
शिक्षक दिवस की बंधाई.,

 

अंधकार को हटाकर प्रकाश की ओर ले जाने वाले गुरू,
जीवन की रहा दिखाने वाला गुरू,
इंसान को इंसान बनाता है गुरू,
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं.,

 

Teachers Day Shayari

 

माताएं देती हैं नव जीवन, पिता सुरक्षा करते हैं,
लेकिन सच्ची मानवता शिक्षक जीवन में भरते हैं,
शिक्षक दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं.,

 

सही क्या है, गलत क्या है, ये सबक पढ़ाते हैं आप,
सच क्या है, झूठ क्या है, ये समझाते हैं आप,
जब सूझता नहीं कुछ तो राहों को सरल बनाते हैं आप.,

 

जीवन जितना सजता है माँ-बाप के प्यार से,
उतना ही महकता है गुरू के आशीर्वाद से,
समझ कल्याण में जीतने माँ-बाप होते है खास,
उतने ही गुरू के कारण होती है देश की साख.,

 

अज्ञानता को दूर करके ज्ञान की ज्योत जलाई है,
गुरूवर के चरणों में रहकर हमने शिक्षा पाई है,
गलत राह पर भटके जब हम तो गुरूवर ने राह दिखाई है.,

 

शिक्षक के बिन ये दुनिया क्या,
कुछ भी नहीं बस अंधकार यहाँ,
शत-शत नमन उन शिक्षकों को,
जिनके कारण रोशन सारा जहाँ.,

 

दिया ज्ञान का भंडार हमें,
किया भविष्य के लिए तैयार हमें,
है आभारी उन गुरूओं के हम,
जो किया कृतज्ञ अपार हमें.,

 

बिना गुरू नहीं होता जीवन साकार,
सर पर होता जब गुरू का हाथ,
तभी बनता जीवन का सही आकार,
गुरू ही है सफल जीवन का आधार.,

 

अक्षर अक्षर हमें सिखाते,
शब्द शब्द का अर्थ बताते,
कभी प्यार से कभी डांट से,
जीवन जीना हमें सिखाते.,

 

जिसे देता है हर व्यक्ति सम्मान,
जो करता है वीरों का निर्माण,
जो बनाता है इंसान को इंसान,
ऐसे गुरू को हम करते प्रणाम.,

 

जीवन का पथ जहाँ से शुरू होता है,
वो रहा दिखाने वाला गुरू ही होता है,
जिसके मन में गुरू के लिए सम्मान होता है,
उसके चरणों में एक दिन पूरा जहान होता हैं.,

 

 

सत्य न्याय की राह पर चलना शिक्षक सिखाते है,
जीवन संघर्षों से लड़ना हमें सिखाते है,
कोटि-कोटि नमन है उस गुरू को,
जीवन को जीवन हमें सिखाते हैं.,

 

ज्ञान का दीपक गुरू जलाते,
अँधियारा अज्ञान मिटाते,
विद्या रूपी धन देकर गुरू,
प्रगति मार्ग पर हमें बढ़ाते.,

 

धुल थे हम सभी आसमां बन गये,
चाँद का नूर ले कहकंशा बन गये,
ऐसे सर को भला कैसे कर दे विदा,
जिनकी शिक्षा से हम क्या से क्या बन गये.,

 

गुरू तेरी महिमा को मैं कैसे करूँ बयां,
लिखने बैठूं जो तेरी महिमा तो यह अंबर छोटा पड़ जाये,
ऐसे मेरे गुरू है जो सब को इंसानियत का पाठ पढ़ायें,
उनके चरणों में हम बस शीश झुका कर श्रद्धा सुमन अर्पित करते जाये.,

 

माता गुरु हैं, पिता भी गुरु हैं,
विद्यालय के अध्यापक भी गुरु है,
जिससे भी कुछ सिखा हैं हमने,
हमारे लिए हर वो शख्स गुरु हैं.,

 

गुरु की उर्जा सूर्य-सी, अम्बर-सा विस्तार,
गुरु की गरिमा से बड़ा, नहीं कहीं आकार,
सद्सान्निध्य ही,जग में हैं उपहार,
प्रस्तर को क्षण-क्षण गढ़े, मूरत हो तैयार.,

 

आपसे ही सीखा, आपसे ही जाना,
आप ही को हमने गुरु हैं माना,
सीखा हैं सब कुछ आपसे हमने,
कलम का मतलब आपसे हैं जाना.,

 

बुद्धिमान को बुद्धि देती और अज्ञानी को ज्ञान,
शिक्षा से ही बन सकता हैं मेरा देश महान.,

 

गुरु बिना ज्ञान नही ,गुरु बिना सुनी हैं जिंदगानी,
गुरु बिना न राम मिले ना मिले सत्य का राज,
जब मिले  गुरु का ज्ञान तो हो जाये सत्य का ज्ञान.,

 

साक्षर हमें बनाते हैं,जीवन क्या है समझाते हैं,
जब गिरते हैं हम हार कर तो साहस वही बढाते हैं,
ऐसे महान व्यक्ति ही तो शिक्षक हैं – जो गुरु कहलाते हैं.,

 

 

मुझे पढ़ना-लिखना सिखाने के लिए धन्यवाद,
मुझे सही-गलत की पहचान सिखाने के लिए धन्यवाद,
बड़े सपने देखने और आकाश को चूमने का साहस देने के लिए धन्यवाद,
मेरा मित्र, गुरु और प्रकाश बनने के लिए धन्यवाद.,

 

जीने की कला सिखाते शिक्षक,
ज्ञान की कीमत बताते शिक्षक,
पुस्तकों के होने से कुछ नहीं होता,
अगर मेहनत से नहीं पढ़ाते शिक्षक,
तो हमारे जीवन में अंधरे के सिवा कुछ नही होता.,

 

ज्ञान देने वाले गुरू का बंदन है,
उनके चरणों की धूल भी चंदन है.,

 

बन्द हो जाएँ सब दरवाजे, नया रास्ता दिखाते हैं गुरु,
सिर्फ किताबी ज्ञान नही, जीवन जीना सिखाते हैं गुरू.,

 

जिसे देता हैं हर व्यक्ति सम्मान, जो करता हैं वीरों का निर्माण,
जो बनाता हैं इंसान को इंसान, ऐसे गुरु को हम करते हैं प्रणाम.,

 

गुरु आपकी ये अमृत वाणी हमेशा मुझको याद रहे,
जो अच्छा है जो बुरा है उसकी हम पहचान करे.,

 

गुरूजी आपकी दुआएं और सर पर हाथ चाहता हूँ,
मैं ज्यादा कुछ नहीं आपका आशीर्वाद चाहता हूँ.,

 

गुरू जो सीखता है उसे सीख लो,
वरना वक्त की मार खाओगे,
जो शिक्षा गुरू मुफ्त में देते है,
उसे हाथ जोड़कर मांगने से भी न पाओगे.,

 

अक्षर अक्षर हमें सिखाते,
शब्द शब्द का अर्थ बताते,
कभी प्यार से कभी डांट से,
जीवन जीना हमें सिखाते.,

 

गुरू गुरूतर मन को करे छिछली परत हटाय,
जइसे सूरज गगन में छन-छन चढ़ता जाय.,

 

ऐसा गुरू जिसको सब अपना रहनुमा बना ले,
ज्ञान ऐसा दे जो जिन्दगी को खुशनुमा बना दे.,

 

पिता जन्म देता महज, कच्ची माटी होय,
गुरूजनों के शिल्प से, मिट्टी मूरत होय.,

 

धरती कहती है, नदियां कहती है,
अंबर कहते बस यही तराना,
गुरू आप ही वो पावन नूर है,
जिनसे रौशन हुआ जमाना.,

 

हमारी गलतियां भी हमें बहुत कुछ सिखाती है,
पर शिक्षक दिवस पर बधाई नहीं पाती है.,

 

Conclusion

यही सभी Teachers Day Shayari  आप सभी को काफी पसंद आई होंगी अगर नहीं तो आप हमे कमेन्ट मे बताए हम अपने अगले पोस्ट व  Hindi Shayari मे कुछ अच्छा सुधार करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *