Welcome Shayari – दोस्तों जब हमारे घर पर कोई ऐसा महेमान आता जो हमारे दिल के बहुत करीब होता तो उसके स्वागत मे हम अपने घर को पूरी तरह से सजा देते है। इसी के साथ हम सभी अपने घर मे उस शकस के लिए खूब अच्छे पकवान तैयार करते आउए घरों के बाहर अच्छे और खुशबू दार फूल को लगते है।

इन्ही सब के साथ हम सभी अपने घर मे आने वाले महमन का स्वागत करते लेकिन इस स्वागत सुरुवात होती आपके बुलाने के तरीके से क्योंकि जब तक आप अपने महेमान को अच्छे से बुलाओगे नहीं तब तक वह आपके घर आएगा भी नहीं।

इस लिए हम आपको आज कुछ ऐसे Welcome Shayari सुनाने जा रहे जिसे आप अपने घर के महेमान को बुलाने के लिए उन्हे भेज सकते है। क्योंकि जब तक आप उन्ही पुराने तरीकों से सबको अपने घर मे बुलाओगे तब तक हर कोई आना कानी करेगा।

लेकिन जब आप इन Welcome Shayari in Hindi for Guest के मध्यम से अपने महेमान को अपने घर आने का फरमान भेजोगे तब वो जरूर आएगा क्योंकि यह फरमान कोई साधारण फरमान नहीं बल्कि दूसरों के मन को जीतने वालों कुछ प्यारे शब्द है।

 

Welcome Shayari in Hindi

आइए अब आपको पढ़ाएंग हम यह Welcome Shayari in Hindi जो पढ़ने मे आपको बहुत मजा आएगा और इसे आप अपने दोस्तों को भी सेंद कर सकते क्योंकि यह Welcome Shayari आपके दोस्तों का दिल जीत लेगी जिसके बाद वह आपके घर आने मे मजबूर हो जाएंगे।

 

चाँदनी रात बड़ी देर के बाद आयी,
ये मुलाक़ात बड़ी देर के बाद आयी,
आज आये हैं वो मिलने मुद्दत के बाद,
आज की रात बड़ी देर के बाद आयी.,

 

यह जो हिज्र में दीवार-ओ-दर को देखते हैं,
कभी सबा को कभी नामबर को देखते हैं,
वो आये घर में हमारे खुदा की कुदरत है,
कभी हम उनको कभी अपने घर को देखते हैं.,

 

हसरतो ने फिर से करवट बदली है,

आप आये तो बलखा के बहारें आईं.,

 

मुबारक शाम की आमद मुबारक,

यह किसी की याद ले कर आ रही है.,

 

अतिथि देवो भवः कहती ये भारत की धरा,

स्वागत करके आपका निभा रहे हैं परम्परा.,

 

welcome shayari

 

जो हो दिल का खुबसुरत,

खुदा ने ऐसे लोग कम बनाए है,

जिन्हे ऐसा बनाया है खुदा ने,

वो आज हमारी महफिल में आए है.,

 

सजती रहे खुशियों की महफ़िल,

हर ख़ुशी इतनी सुहानी रहे,

आप ज़िन्दगी में इतने ख़ुश रहें की,

हर ख़ुशी आपकी दीवानी रहे.,

 

खुशियों में बीते आपका हर लम्हा ज़िन्दगी में,

गुज़रे आपका हर पल एक दूसरे की बन्दगी में.,

 

आमद से पहले तेरी सजाते कहाँ से फूल,

मौसम बहार का तो तेरे साथ आया है.,

 

हम तो अतिथि को भगवान का रूप मानते है,

सुख – दुख में साथ देना होता है,यहि जानते है.,

 

Chand Shayari

 

शामो सहर खुशियों का तराना रहे,

कुछ भी हो मुस्कुराने का बहाना रहे,

आप जिंदगी में इतने खुश रहे कि,

हर पल आपकी खुशियों का दीवाना रहे.,

 

ज़िन्दगी से इतना प्यार हो जाए,

खुशियों भरी बहार हो जाए,

इस रिश्ते की डोर रहे सात जन्म,

दुआओं भरा ऐसा संसार हो जाए.,

 

जब फूल भी खिलने लग गये,

जब सितारे भी चमकने लग गये,

क्या हो गया देखने जो लगा,

हमारे खास मेहमान जो आने लग गये.,

 

फूल खिले है ढेरो खिलते है,

इत्र भी हवाओं में सभी लुटते है,

फिजाओ को मीठा तो वही बनाते है,

जो आप जैसे गुलकन्द बन जाते है.,

 

बहुत बहुत सुक्रिया आपको आने के लिए,

हमारे महफिल में दिल खोल कर गाने के लिए,

भुलुंगा नहीं आपकि सु-मधुर आवाज को,

दिल से सुक्रिया महफिल मे रौनक लाने के लिए.,

 

welcome shayari in hindi

 

तकलीफ तो धुप की तरह आती रहती है,

थोड़ी हिम्मत की भी चाह होनी चाहिए,

हम हर मुसीबत में मुस्कुरा लेंगे साहिब,

बस आप सा कोई पास होना चाहिए.,

 

आपकि हर एक बात याद रहेगी,

खुबसुरत मुलाकात भि याद रहेगी।

आते रहिये रोज रोज खुसिया बढाने को,

ये पल ज़िंदगि भर याद रहेगी.,

 

दो दिलों को जोड़ने का काम कर रहे हैं,

खुशियां एक दूसरे के नाम कर रहे हैं,

अटूट रहे हमारा ये स्नेह संगम,

आपके दरमियां मोहब्बत भरा पैगाम कर रहे हैं.,

 

हमारी महफ़िल में लोग बिन बुलायें आते हैं,

क्योकि यहाँ स्वागत में फूल नहीं पलकें बिछाये जाते हैं.,

प्यार भरा एक संसार बसाते हैं,

हिलमिल एक दूसरे को गले लगाते हैं,

ताउम्र सलामत रहे ये जोड़ी,

ऐसी खूबसूरत जोड़ी भगवान बनाते हैं.,

 

Krishna Shayari

 

वो खुद ही नाप लेते हें बुलंदी आसमानों की,

परिंदों को नहीं तालीम दी जाती उड़ानों की,

महकना और महकाना तो काम है खुशबु का,

खुशबु नहीं मोहताज़ होती क़द्रदानों की.,

 

आये वो हमारी महफ़िल में कुछ इस तरह,

कि हर तरफ़ चाँद-तारे झिलमिलाने लगे,

देखकर दिल उनको झूमने लगा,

सब के मन जैसे खिलखिलाने लगे.,

 

हसरतो ने फिर से करवट बदली है,
आप आये तो बलखा के बहारें आईं.,

 

welcome shayari for anchoring in hindi

 

हार को जीत की इक दुआ मिल गई,
तप्त मौसम में ठंडी हवा मिल गई,
आप आये श्रीमान जी यूँ लगा,
जैसे तकलीफों को कुछ दवा मिल गई.,

 

जो दिल का हो ख़ूबसूरत ख़ुदा ऐसे लोग कम बनाये हैं,
जिन्हें ऐसा बनाया है आज वो हमारी महफ़िल में आये हैं.,

 

दिलों में विश्वास पैदा करता है,
हम सुब में कुछ आस पैदा करता है,
मिटटी की बात तो अलग है,
इश्वर तो पत्थरों में भी घास पैदा करता है.,

 

रौनकें दमक उठती है नूर फ़ैल जाता है,

जब महफ़िल में आप सा कोई आता है.,

 

फूल खिलते है जब आप मुस्कुराते है,

जहाँ जाते है चार चांद लगाते है,

उस मंच की शोभा के क्या कहने,

जहाँ आप जैसे अतिथि आते है.,

 

Welcome Shayari for Annual Function in Hindi

दोस्तों जब आपके कॉलेज मे ऐन्यूअल फंगक्शन होता तब आपके कॉलेज मे कोई अतिथि जरूर आता तब आप उनके स्वागत मे यह सभी Welcome Shayari for Annual Function in Hindi को प्रस्तुत कर सकते है।

 

तकलीफ तो धुप की तरह आती रहती है,

थोड़ी हिम्मत की भी चाह होनी चाहिए,

हम हर मुसीबत में मुस्कुरा लेंगे साहिब,

बस आप सा कोई पास होना चाहिए.,

 

चाँद भी आ जाएँ तो महफ़िल में वो बात न रहेगी,
सिर्फ आपके आने से ही महफ़िल की रौनक बढ़ेगी.,

 

दिल को था आपका बेसबरी से इंतजार,
पलके भी थी आपकी एक झलक को बेकरार,
आपके आने से आयी है कुछ ऐसी बहार,
कि दिल बस मांगे आपके लिये खुशियाँ बेशुमार.,

 

आप आये यहाँ शुक्रिया मेहरबां,

क्या कहें आपको हम हुये बेजुबाँ,

यह सभा हर्ष से हो गई तरबतर,

नूर से भर गया है ये सारा शमाँ.,

 

हर गली अच्छी लगी हर एक घर अच्छा लगा,

वो जो आया शहर में तो शहर भर अच्छा लगा.,

 

 

शब्दों का वजन तो हमारे बोलने के भाव से पता चलता हैं,
वैसे तो, दीवारों पर भी “वेलकम” लिखा होता हैं.,

 

आये वो हमारी महफ़िल में कुछ इस तरह,
कि हर तरफ़ चाँद-तारे झिलमिलाने लगे,
देखकर दिल उनको झूमने लगा,
सब के मन जैसे खिलखिलाने लगे.,

 

महफिल को खूबसूरत बनाने में,
थोड़ी सी हमारी मदद कीजिये,
अंजान बनकर मायूस नहीं बैठना है,
खुलकर मुस्कुराइये और आनंद लीजिये.,

 

कौन आया कि निगाहों में चमक जाग उठी,
दिल के सोये हुए तरानों में खनक जाग उठी,
किसके आने की खबर ले कर हवाएँ आई,
रूह खिलने लगी साँसों में महक जाग उठी.,

 

हार को जीत की इक दुआ मिल गई,
तप्त मौसम में ठंडी हवा मिल गई,
आप आये श्रीमान जी यूँ लगा,
जैसे तकलीफों को कुछ दवा मिल गई.,

 

सौ चाँद भी आ जाएँ तो महफ़िल में वो बात न रहेगी,
सिर्फ आपके आने से ही महफ़िल की रौनक बढ़ेगी.,

 

आप आए तो बहारों ने लुटाई ख़ुश्बू,
फूल तो फूल थे काँटों से भी आई ख़ुश्बू.,

 

अजीज के इन्तजार में ही पलके बिछाते हैं,
महफ़िलो की रौनक खास लोग ही बढ़ाते हैं.,

 

सौ चाँद भी चमकेंगे तो क्या बात बनेगी,
तुम आए तो इस रात की औक़ात बनेगी.,

 

ख़ुश-आमदीद वो आया हमारी चौखट पर,
बहार जिस के क़दम का तवाफ़ करती है.,

 

welcome shayari in urdu

 

दिल को सुकून मिलता है मुस्कुराने से,
महफ़िल में रौनक छा गई आपके आने से.,

 

जो दिल का हो ख़ूबसूरत ख़ुदा ऐसे लोग कम बनाये हैं,
जिन्हें ऐसा बनाया है आज वो हमारी महफ़िल में आये हैं.,

 

आपका स्वागत करने हम सब मिलकर आये है,
चेहरे पर मुस्कान और हाथों में फूलों की माला लाये है.,

 

ऐसा स्वागत कही हुई ही नहीं है,
जैसी स्वागत मेरी प्यारी माँ करती है.,

 

चंदन की खुशबू चौखट पर बिछाते हैं,
पवित्र भाव से खुशी के दीप जलाते हैं,
मेरे अतिथि आए हैं आज भगवान बनकर,
हमारे भगवान को हृदय से तिलक लगाते हैं.,

 

हार को जीत की एक दुआ मिल गई,
तपन मौसम में ठंडी हवा मिल गई,
आप आये श्री मान जी यू लगा,
जैसे तकलीफ को कुछ दवा मिल गई.,

 

कौन आया कि निगाहों में चमक जाग उठी,
दिल के सोये हुए तरानों में खनक जाग उठी,
किसके आने की खबर ले कर हवाएँ आई,
रूह खिलने लगी साँसों में महक जाग उठी.,

 

सबके दिलों में हो सबके लिए प्यार,
आने वाला हर पल लाये खुशियों का बहार,
इस उम्मीद के साथ भुलाके सारे गम,
इस आयोजन का करें वेलकम.,

 

चाँदनी रात बड़ी देर के बाद आयी,
ये मुलाक़ात बड़ी देर के बाद आयी,
आज आये हैं वो मिलने मुद्दत के बाद,
आज की रात बड़ी देर के बाद आयी.,

 

हसरतो ने फिर से करवट बदली है,
आप आये तो बलखा के बहारें आईं.,

 

 

जो दिल का हो ख़ूबसूरत ख़ुदा ऐसे लोग कम बनाये हैं,
जिन्हें ऐसा बनाया है आज वो हमारी महफ़िल में आये हैं.,

 

स्वीकार आमंत्रण किया, रखा हमारा मान,
कैसे करे कृतज्ञता, स्वागत है श्री मान.,

 

देर लगी आने में तुम को शुक्र है फिर भी आए तो,
आस ने दिल का साथ न छोड़ा वैसे हम घबराए तो.,

 

हार को जीत की इक दुआ मिल गई,
तप्त मौसम में ठंडी हवा मिल गई,
आप आये श्रीमान जी यूँ लगा,
जैसे तकलीफों को कुछ दवा मिल गई.,

 

हार को जीत की एक दुआ मिल गई,
तपन मौसम में ठंडी हवा मिल गई,
आप आये श्री मान जी यू लगा,
जैसे तकलीफ को कुछ दवा मिल गई.,

 

सौ चाँद भी आ जाएँ तो महफ़िल में वो बात न रहेगी,
सिर्फ आपके आने से ही महफ़िल की रौनक बढ़ेगी.,

 

हर गली अच्छी लगी हर एक घर अच्छा लगा,
वो जो आया शहर में तो शहर भर अच्छा लगा.,

 

ख़ुश-आमदीद वो आया हमारी चौखट पर,
बहार जिस के क़दम का तवाफ़ करती है.,

 

हुस्न-ओ-इश्क का समा है आज जमाने के बाद,
हर फूल की खुशबू गज़ब है आप के आने के बाद.,

 

चाँदनी रात बड़ी देर के बाद आयी,
ये मुलाक़ात बड़ी देर के बाद आयी,
आज आये हैं वो मिलने मुद्दत के बाद,
आज की रात बड़ी देर के बाद आयी.,

 

Conclusion

यही सभी Welcome Shayari आप सभी को काफी पसंद आई होंगी अगर नहीं तो आप हमे कमेन्ट मे बताए हम अपने अगले पोस्ट व  Hindi Shayari मे कुछ अच्छा सुधार करेंगे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.